किसी भी बीमारी में और चिकित्‍सा पद्धति में लक्षणों का महत्‍वपूर्ण योगदान है। लक्षणों के आधार पर ही चिकित्‍सा कारगर होती है। लेकिन होम्‍योपैथी एक ऐसी चिकित्‍सा पद्धति है जिसमें लक्षणों को अनदेखा किया गया तो बीमारी में अपेक्षाकृत...
कभी-कभी यदि आप गाँव में हैं या ऐसे क़स्‍बे में हैं जहां चिकित्‍सा के अत्‍याधुनिक इलाज की सुविधा नहीं है और कोई गंभीर संकट उत्‍पन्‍न हो गया तो दिमाग़ कार्य नहीं करता है। जान को जोखिम बन जाती है।...
कभी-कभी बच्‍चों को निमोनिया हो जाता है तो भी परिवार में संकट हो जाता है। पूरा परिवार बच्‍चे को लेकर परेशान हो जाता है। अनेक मामलों में तो बच्‍चे को अस्‍पताल में भर्ती कराना पड़ता है। अनेक बार यह...
आम जनमानस का झुकाव अब प्राकृतिक चिकित्सा पद्धतियों की ओर होने लगा है। अंग्रेजी दवाओं के साइड इफ़ेक्ट अब लोगों को सोचने पर मज़बूर कर रहे हैं। महत्वपूर्ण प्राकृतिक चिकित्सा पद्धतियों में होम्योपैथ का विशेष स्थान है। आइए जानते...
होम्‍योपैथी बड़े काम की चीज़ है। इस पैथी में यदि लक्षण समझ में आ गए तो समझ लीजिए कि रोग विदा हुआ, लक्षण समझ में नहीं आए तो दवा खाते रहिए, कोई नुक़सान नहीं होगा लेकिन फ़ायदा भी अपेक्षित...
शायद ही कोई हो जिसे पेट दर्द के बारे में अनुभव न हो। बच्‍चे से लेकर बूढ़े तक लगभग सभी लोग कभी न कभी इस दर्द से गुजर चुके होते हैं। जब यह दर्द होता है तो सोना-बैठना भी...
लीवर के ट्यूमर से जान का संकट उत्‍पन्‍न हो जाता है। सही समय पर इलाज न कराया जाए तो कैंसर का रूप ले लेता है। एलोपैथ में अंतत: इसका ऑपरेशन ही इसका एकमात्र विकल्‍प है। लेकिन होम्‍योपैथ की मीठी...
होम्‍योपैथ एक ऐसी चिकित्‍सा पद्धति है जो हमारे आचरण व व्‍यवहार की भी चिकित्‍सा करती है। यह केवल घोषित बीमारियों भर का कारगर इलाज नहीं करती बल्कि बीमारियों के भ्रम का भी निवारण करती है। इसीलिए कहा जाता है...

STAY CONNECTED

11,948FansLike
6,094FollowersFollow
313FollowersFollow

Latest Lifestyle Tips