शॉवर सेक्स करने के 5 ख़तरे

अधिकतर लोग शॉवर सेक्स में थोड़ा असहज महसूस करते हैं, क्योंकि गिरने, फिसलने और गीली बॉडी पर पकड़ कम होने का डर रहता है। कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हें में ठंड लगती है और तो कुछ को पानी में डूबने का डर लगता है। इधर उधर शैम्पू लगाने से आपको पेनिस इंजरी हो सकती है, और भी बहुत कुछ ऐसा हो सकता है जिसके बारे में सोचकर भी आप डर जाओगे। करन एलिजाबेथ बॉयल, एमडी, फैक्स ने शॉवर सेक्स के ख़तरे के बारे में बताते हैं, क्या आप अभी भी इसे बारे में बात करने ने शरमाते हैं, लेकिन शरमाने की बजाय आपको इसकी जानकारी होनी चाहिए।

शॉवर सेक्स के खतरे

1. आप शॉवर सेक्स से प्रेगनेंट हो सकती हैं

बहुत से लोग यही सोचते हैं कि पानी में सब कुछ धुल जाता है, लेकिन शॉवर सेक्स में ऐसा कुछ भी नहीं जो आपको प्रेगनेंसी से बचाए। जब आप गूगल में शॉवर सेक्स शब्द टाइप करेंगे तो पहले पेज पर ही आपको शॉवर सेक्स एंड प्रेगनेंसी पर आर्टिकल मिल जाएगा। इजैक्यूलैट को साबुन पानी से धोने से कुछ नहीं होने वाला क्योंकि प्रेगनेंसी का चांस रहेगा ही। शुक्राणुओं में फ़ीमेल रिप्रोडक्टिव सिस्टम में जीने और तैराने की अद्वितीय क्षमता होती है, इसलिए पानी और ग्रैविटी को गर्भनिरोधक समझने की भूल न करें।

2. पानी को चिकनाई की तरह प्रयोग करना भारी पड़ सकता है

शॉवर सेक्स के समय पानी हानिकर नहीं है लेकिन इसमें चिकनाई नहीं जिससे यह नैचुरल चिकनाई को धोकर ख़त्म कर देता है। इसलिए लोग चिकनाई लाने के लिए साबुन या शैम्पू का प्रयोग कर सकते हैं जिससे योनि और उसके आस पास के भाग में जलन हो सकती है, और पुरुषों के शिशन की त्वचा रूखी हो जाती है। चिकनाई रहित संभोग से वजाइना की स्किन कट और फट सकती है, जिससे यूरीनरी ट्रैक्ट इंफ़ेक्शन हो सकता है, जो वैजीनायटस का कारण बन जाता है, और वजाइनल स्किन का पीएच लेवल घटा बढ़ाकर यूरेथ्रा तक उन छोटे छोटे माइक्रोब्स को पहुंचा देता है, जिससे यूटीआइ या किडनी इंफ़ेक्शन का ख़तरा बढ़ जाता है।

3. सिर्फ़ गिरकर ही चोट लगने का ख़तरा नहीं है

शॉवर सेक्स के समय अजीब पोज़िशंस में ज़्यादा अंदर तक जाने की चाह में पुरुष का शिशन अनचाही दिशा में अधिक मुड़ सकता है। अगर अजीब सेक्स पोज़िशन में पेनिस मुड़ जाए तो उसमें फ़ैक्चर भी हो सकता है, जिससे उसमें सूजन और अंदरुनी चोट आ जाएगी तो ऐसी स्थिति में डॉक्टर के पास जाना भी अजीब होगा।

4. सेक्शूअली ट्रांसमिटेड इंफ़ेक्शन नहीं टलेगा

क्या शॉवर सेक्स के समय एसटीडी हो सकता है, यह भी गूगल किया जाने वाला पॉपुलर सर्च टर्म है। फिर से वही बात सामने निकलकर आती है कि पानी में सब धुल जाएगा, लेकिन सच तो यह है कि गोनोरिया, क्लैमिडीया, हरपीज़, कॉनडायलोमा, एचआइवी और दूसरी बीमारियों की रोकथाम नहीं हो सकती है। बल्कि योनि और शिशन के बीच चिकनाई ख़त्म होने से ऐसी बीमारियों की सम्भावना बढ़ जाती है।

5. कॉन्डम शॉवर सेक्स में कम कारगर है

न से बेहतर तो है कि आप कॉन्डम प्रयोग करें , लेकिन शॉवर में इसपर भरोसा करना आपकी मूर्खता हो साबित सकती है। एक लाइफस्टाइल कॉन्डम साइट के अनुसार जब यह पेनिस पर है तब शॉवर सेक्स में को ख़तरा नहीं है। लेकिन सच तो यह है कि भीग जाने पर यह फिसलने लगते हैं। लाइफस्टाइल साइट के अनुसार कॉन्डम को पहनकर ही नहाने जाना चाहिए लेकिन पानी में मौजूद क्लोरीन और अन्य केमिकल लैटेक्स कॉन्डम को नुकसान पहुंचा सकते हैं।