Bodybuilding

बॉडी बनाने के आसान उपाय

आज कल के दौड़ भाग के टाइम में लोगों को हेल्थ प्रॉब्लम्स बहुत ही ज़्यादा होने लगे है। इसका कारण है, लोगों का बिज़ी शेड्यूल। अपने व्यस्त लाइफ़स्टाइल के कारण, लोग ना ठीक टाइम पर खाना खाते हैं और ना ही ठीक टाइम पर सोते हैं। सब कुछ इधर उधर होने के कारण हेल्थ पर बहुत बुरा असर पड़ता है। जो लोग ये बात समझते हैं वो तो सब काम सही टाइम पर सही तरीक़े से करते हैं और हमेशा फ़िट रहते हैं। पर बहुत से लोग या तो सही चीज़ों से अंजान हैं या जान कर भी सुस्ती की वजह से अनेकों बीमारी से घिरते जा रहे हैं। यही कारण है कुछ लोग ज़रूरत से ज़्यादा मोटे हो जाते हैं तो कुछ उमीद से ज़्यादा पतले। पिछले कुछ दिनों से बहुत से लोग मुझे कमेंट्स एण्ड ईमेल से एक कॉमन सवाल पूछ रहे हैं कि, ‘मैं पतला हूँ, अच्छी बॉडी बनाने के लिए क्या करूँ?’ सो आज मैं सेहत के बारे में आपको अच्छी से अच्छी सलाह देने की कोशिश करूँगा। और आपको बताऊँगा कि पतले लोग हेल्tipथ कैसे बनाएँ। इस टॉपिक के बारे में डीटेल में बात करने वाला हूँ।

बॉडी बनाने के लिए टिप्स

हेल्थ रिलेटेड इस आर्टिकल में मैने बहुत सारी हेल्थ टिप्स और ज़रूरी बातें शेअर की हैं जिनसे सबको बहुत फ़ायदा मिलेगा और इन टिप्स को सही तरीक़े से फ़ॉलो करने पर आप बिल्कुल फ़िट और तंदुरूस्त हो जाओगे, ये मेरी गारेंटी है। तो अब सीधा टॉपिक पर आते हैं..

बॉडी बनाने के टिप्स

दोस्तों किसी भी प्रॉब्लम का अच्छा इलाज तभी किया जा सकता है जब उस प्रॉब्लम के होने का रीज़न पता हो। इसलिए मैं, दुबला पतला रहने के कारण और उनके सही इलाज एक साथ डिस्कस कर रहा हूँ ताकि आपको प्रॉब्लम भी समझ आए और उसका सही तरीक़े से इलाज कैसे किया जाए वो भी पता चले।

1- डॉक्टर से सलाह लें

सबसे पहला और ज़रूरी प्वाइंट, अगर आपको लगता है कि आप हेल्दी खाना खाते हो और अच्छा लाइफ़ स्टाइल जीते हो जैसे-सही टाइम पर उठना, सही टाइम पर सोना, सही टाइम पर खाना खाना आदि, फिर भी आपकी सेहत नहीं बनती और आप बहुत कमज़ोर महसूस करते हो तो आपको सबसे पहले अच्छे डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए। बहुत सारे लोग बॉडी बनाने के लिए डॉक्टर को दिखाने के नाम पर केमिस्ट वाले से कुछ टैब्लेट्स और सिरप ले आते हैं, जो की बिल्कुल ग़लत है। आपको अच्छे डॉक्टर को दिखना चाहिए, क्योंकि सेहत से खिलवाड़ करना फ़्यूचर में बहुत महँगा साबित हो सकता है, इसलिए अच्छा होगा की प्रॉब्लम शुरू होने से पहले ही उसका सही कारण जान कर इलाज कर दिया जाए, ताकि आप हमेशा अपनी ज़िंदगी ख़ुशी से बिना किसी परेशानी के गुज़ार सको।

2- हेरिडेटरी प्रॉब्लम हो सकती है

कुछ लोगों में दुबलेपन और पटलेपन की प्रॉब्लम फ़ैमिली (माता – पिता) के जीन्स के कारण भी होती है। अगर माता पिता में किसी की हेल्थ अच्छी नहीं रहती तो इसका असर उनके बच्चों पर भी हो सकता है। इस तरह के केस में लोग बताते हैं कि मैं अच्छा और हेल्दी खाना खाता हूँ फिर भी मेरी सेहत पर कोई असर ही नहीं पड़ता है। ऐसे लोगों को बॉडी बनाने के लिए अपनी डायट बदलनी चाहिए, मतलब जैसा आप शुरू से खाते आ रहे हैं उससे हट कर अलग चीज़ें खाना शुरू करना चाहिए। इससे भी फ़र्क पड़ता है।

3. अवशोषण की समस्या – अब्ज़ॉर्प्षन प्रॉब्लम

कई बार ऐसा भी होता है कि लोग खाना तो ख़ूब खाते हैं फिर भी दुबले पतले और कमज़ोर रहते हैं इसका एक कारण ये भी हो सकता है कि उनकी आंत खाने को ठीक तरह से नहीं पचा पाती है और खाने से प्रॉपर विटामिन्स और प्रोटीन्स ठीक से नहीं सोख पाती है जिसके कारण इंसान को हमेशा पटलापन और कमज़ोरी रहती है। इस प्रॉब्लम को ख़त्म करने के लिए डॉक्टर की सलाह को ठीक से मानना चाहिए और डॉक्टर की सलाह के अनुसार दवाई खानी चाहिए।

4- अपच की समस्या

कुछ लोग किसी रीज़न से ठीक से खाना ही नहीं खा पाते हैं, जैसे अगर कभी तोड़ा ज़्यादा खाना खा लिया तो इनडाइजेशन (अपच) हो जाती है। अगर ठीक टाइम पर ठीक खाना ना खाया जाए तो प्रॉब्लम और बढ़ जाती है और फिर सही खाना खाने पर भी शरीर को उसकी ज़रूरत के हिसाब से सब कुछ नहीं मिल पाता है। इस तरह की प्रॉब्लम होने पर आपको ये ध्यान रखना चाहिए कि आप कितना खाना खाते हैं तो आपका हाज़मा यानि डाइजेस्टिव सिस्टम ठीक रहता है और उसी के हिसाब से खाना पीना चाहिए। जो चीज़ें आपको हज़म नहीं होती उससे दूर ही रहना चाहिए और डॉक्टर से पूछ कर चूर्ण लेना चाहिए। जब तक खाया हुआ खाना ठीक से पचेगा नहीं तब तक आपका बॉडी बनाने का सपना सच नहीं हो सकेगा।

बॉडी बनाने के लिए पेट की समस्याएँ दूर करें

5- ख़ून की कमी

अगर इंसान ख़ून की कमी की समस्या से गुज़र रहा है तो भी उसे बॉडी बनाने के लिए बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। सो इसके लिए भी ज़रूरी है कि सही टाइम पर अच्छे डॉक्टर से चेकअप करवाया जाए और ख़ून की कमी को जल्द से जल्द पूरा किया जाए। एक बार ये प्रॉब्लम सॉल्व हो जाने पर सेहत धीरे धीरे बनने लगती है और इंसान पूरी तरह से हेल्दी हो जाता है। शरीर सुडौल और तगड़ा दिखने लगता है।

6- कुछ अज्ञात कारण

इस तरह के मामलों में ना तो इंसान को कोई अब्ज़ॉर्प्षन (अवशोषण की समस्या) प्रॉब्लम होती है, न डाइजेस्टिव प्रॉब्लम होती है, न ही ख़ून की कमी और फिर इंसान बेहद दुबला पतला रहता है, हालाँकि वो पूरी तरह स्वस्थ और ऐक्टिव होता है फिर भी शरीर कमज़ोर दिखता है। इस तरह के केस में घबराने की कोई ज़रूरत नहीं। नीचे दिए गये अच्छी सेहत के लिए स्पेशल टिप्स को फ़ॉलो करके ये समस्या दूर की जा सकती है।

7- ग़लत इलाज

कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हें पता होता है कि, उन्हें क्या प्रॉब्लम है और किस कारण से उनके बॉडी की ठीक से प्रोग्रेस नहीं हो पा रही है और उनकी अच्छी सेहत नहीं बन रही है। फिर भी वो उस कारण की ओर ध्यान नहीं देते हैं और जान-बुझ कर अंजान बने रहते हैं और बॉडी बनाने के लिए फ़ालतू के प्रोडक्ट्स ट्राई करते रहते हैं ये सोच कर कि क्या पता इससे कुछ फ़ायदा हो जाए। उन लोगों को ये समझना चाहिए कि जो प्रॉब्लम है उसी का इलाज करने से उनकी समस्या दूर होगी, फ़ालतू के हेल्थ प्रोडक्ट्स या वेट गैन से उनको कोई फ़ायदा नहीं होगा, बल्कि उल्टा उससे साइड असर हो सकते हैं और दिमाग़ पर ज़ोर पड़ेगा और ज़्यादा परेशानी बढ़ेगी। वेट गैन प्रोडक्ट्स कुछ टाइम के लिए आपको अच्छा रिज़ल्ट्स दे सकते हैं पर बाद मे उनके बहुत से साइड असर होते हैं जिनके कारण सीरीयस हेल्थ प्रॉब्लम जैसे की किडनी स्टोन, साँसों की बीमारी भी हो सकती है।

बॉडी बनाने के लिए ग़लत दवाएँ न लें

8- सही नींद या पूरी नींद न लेना

नींद का हमारी हेल्थ पर सीधा असर होता है। इसी कारण आपको बॉडी बनाने के लिए पूरी नींद लेना बहुत ज़रूरी है। कुछ लोग जानते हुए भी इस चीज़ को इग्नोर करते हैं जिस कारण उन्हे हमेशा हेल्थ रिलेटेड प्रॉब्लम्स रहती है। अच्छी सेहत के लिए आपको 8 घंटे की अच्छी नींद लेनी चाहिए। सोने का भी एक टाइम और तरीक़ा होता है अगर वो तरीका ठीक से अपनाया जाए तो फ़ायदा ज़्यादा मिलता है। सोने के लिए उत्तम टाइम है रात के 9 बजे से सुबह के 5 बजे। अगर आप तात को 12 बजे सो कर सुबह 8 बजे उठोगे तब भी नींद तो 8 घंटे की ही हुई लेकिन ये टाइम ग़लत है। आयुर्वेद के हिसाब से हमें सुबह सूरज निकालने से पहले ही उठ जाना चाहिए। सोते समय अपना सिर पूरब की ओर करके सोएँ तो अधिक लाभ मिलेगा।

9- मॉर्निंग वॉक और एक्सरसाइज़

सुबह 5 बजे उठने में शुरूआत में थोड़ी बहुत परेशानी हो सकती है पर आदत बनाने से कुछ भी मुश्किल नहीं होगी। सुबह उठते ही 2-3 गिलास पानी पिएँ, ध्यान रहे पानी ठंडा नहीं होना चाहिए। पानी पीने के बाद खुली हवा मे वॉक के लिए जाएँ। हल्की एक्सरसाइज़ और पुशअप्स करना शुरू करें। बॉडी को अच्छे से स्ट्रेच करें और हल्की फुल्की योगा करें। ये वो प्वाइंट है जिसके बारे में सब जानते हैं करते बहुत कम लोग हैं, और यही कारण है कि आज बहुत कम लोग ही आज कल पूरी तरह से स्वस्थ हैं।

10- सही तरीक़े से खाना और पीना

खाना खाने का एक सही तरीक़ा और सही टाइम होता है। सुबह का खाना सूरज निकालने के 2 घंटे के अंदर खा लेना चाहिए और सुबह पेट भर कर खाना चाहिए। दोपहर को सुबह से थोड़ा कम और रात को बिल्कुल कम खाना चाहिए। मतलब यदि आपने सुबह 6 रोटी खाई तो दोपहर को 4 या ज़्यादा से ज़्यादा 5 रोटी खाओ और रात को 2 या 3। इसके अलावा खाने के तुरंत बाद या पहले पानी पीना ज़हर के बराबर है। इसलिए खाना खाने के तुरंत बाद पानी न पिएँ। खाने से कम से कम 40 मिनट पहले और 1 घंटे बाद ही पानी पीना चाहिए, यदि आपको इसकी आदत नहीं है तो धीरे धीरे शुरू करो और आदत बनाओ, क्योंकि ये चीज़ सबसे ज़रूरी है। “हेल्दी और फ़िट कैसे रहें” पोस्ट में मैने डीटेल में सब कुछ बताया है सो आपसे ये मेरी रिक्वेस्ट है कि आप इस पोस्ट को ज़रूर पढ़ो और जो जैसे बताया गया है उस तरह से फ़ॉलो करना शुरू करो।

11- हस्तमैथुन मत (कम) करो

एक बात आप जितनी जल्दी समझ लो आपके लिए उतना ही अच्छा होगा। अगर आप ज़रूरत से ज़्यादा मैस्टरबेशन (हस्त-मैथुन) करोगे तो आपका शरीर और स्टैमिना सही तरह से कभी नहीं बढ़ेगा। आप हमेशा कमज़ोर और बीमार महसूस करोगे। ज़रूरत से ज़्यादा मैस्टरबेशन से इंसान को सुस्ती बहुत आती है और हमेशा कमज़ोरी महसूस होती है। कुछ लोग आपको कहेगें कि इससे कुछ नहीं होता लेकिन लिमिट से ज़्यादा जैसे की रोज़-रोज़ या दिन में बार बार ऐसा करने से बॉडी और हेल्थ पर इसका नेगेटिव असर ज़रूर पड़ता है। इसलिए अगर आपको बॉडी बनाने के लिए के लिए सीरियस हैं तो ज़्यादा मैस्टरबेट न करें, ज़्यादा से ज़्यादा वीक मे एक बार, बस।

बॉडी बनाने के लिए हस्त मैथुन न करें

12- कब्ज़ की समस्या

इसके साथ साथ अगर आप कॉन्स्टिपेशन (कब्ज़) की समस्या से गुज़र रहे हो तो पहले आपको कब्ज़ का इलाज करना होगा, जो की बिल्कुल भी मुश्किल नहीं है बस आपको डॉक्टर से मिल कर अपनी समस्या बतानी होगी। मैं फिर कह रहा हूँ कि आप हमेशा अच्छे डॉक्टर से ही कंसल्ट करना, ऐसे ही किसी केमिस्ट वाले से गोलियाँ ले कर खाना मत शुरू कर देना। अगर आपको कम भूख लगती है, या आपको टीबी की प्रॉब्लम है या फिर पेट में कीड़े हैं तो आपकी सेहत नहीं बनेगी चाहे आप जो मर्ज़ी जितना मर्ज़ी खा लो। तो ज़रूरी है की सबसे पहले आप इन प्रॉब्लम्स का इलाज करो, फिर आप देखोगे की बिना कुछ स्पेशल किए ही आपकी सेहत मे इंप्रूव्मेंट होने लगेगा।

बॉडी बनाने के लिए स्पेशल टिप्स

  1. आप सोने से पहले एक ज़ेंटेल टैबलेट ले सकते हैं। दूसरी डोज़ एक हफ़्ते के बाद ली जा सकती है।
  2. झंडू केसरी जीवन 1 चमच डेली, 6 – 8 महीने तक लें।
  3. लंच और डिनर के बाद द्राक्षासव 4 चम्मच पानी के साथ लें।
  4. अश्वगंधा चूर्ण घी, शहद या दूध के साथ दिन मे 3 बार लें।
  5. सुबह और शाम को दिव्या रसायन वटी 2 टैब्लेट्स दूध के साथ लें।
  6. एक चम्मच मेथी के बीज पानी के साथ लें।
  7. रिवाइटल कैप्सूल 3-4 महीने खाएँ लें।
  8. ब्रेकफ़ास्ट के बाद 2 बनाना विद मिल्क लें।
  9. कब्ज़ होने पर इसबगोल की भूसी (डाबर नेचर केयर) गरम पानी के साथ लें।
  10. घी/हनी/फ्रूट/ड्राई फ्रूट/सलाद/दही/मिल्क को अपनी डायेट मे ज़्यादा लेना शुरू करें।
  11. रोज़ कम से कम 30 मिनिट एक्सरसाइज़ करने की आदत डालें। शुरू में हल्का वॉक ज़रूर करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top