खांसी श्वसन प्रणाली को स्वच्छ करने, बलगम तथा गले और फेफड़ों के जीवाणुओं से छुटकारा पाने का एक क़ुदरती तरीक़ा है। इसलिए खांसी से बलगम पैदा होने पर बलगम रोकने या बंद करने वाली दवाएं कभी नहीं लेनी चाहिए बल्कि ऐसे उपाय करने चाहिए। जिससे बलगम पतला होकर सहज निकल जाये। आइए जानते हैं गीली खांसी से राहत पाने के घरेलू उपाय, जिन्हें अपनाकर खाँसी को छू मन्तर करें।

गीली खांसी का उपचार

गीली खांसी मिटाएँ दादी माँ के नुस्खे आज़माएँ

लहसुन

कच्चे लहसुन में मौजूद गुण म्यूकस बढ़ाने वाले बैक्टीरिया को ख़तम करने में सक्षम है इसलिए सुबह सुबह लहसुन की 4-6 कलियाँ खायें और गीली खाँसी को दूर भगाएं।

सरसों के बीज

खांसी होने पर बलगम को बहाने के लिए एक छोटा चम्मच सरसों के बीज को पीसकर एक कप गरम पानी में मिला दें। इसे 15 मिनट तक वैसे ही छोड़ दें। अब इसके बाद इसे छानकर थोड़ा- थोड़ा करके दिनभर पीने से बेहतर परिणाम प्राप्त होंगें।

अजवायन

यह एक एंटीस्पैज्मोडिक जड़ी-बूटी है। खांसी होने पर एक कप गरम पानी में एक बड़ा चम्मच अजवायन मिलाकर तब तक पकाएं जब तक यह पानी जलकर आधा न हो जाएँ। अब इस मिश्रण को हल्का ठंडा करके अजवायन को छान लें और स्वाद के लिए इस मिश्रण में कुछ शहद मिलाकर पीने से खाँसी गायब हो जायेगी।

नमक का गरारा

गीली खांसी से शीघ्रता से छुटकारा पाने के लिये नमक के पानी का गरारा करने से इस परेशानी से निजात मिलती है। इसलिए खाँसी होने पर नमक का गरारा नियमित करें।

काली मिर्च

गीली खांसी को समाप्त करने का एक सरल उपाय काली मिर्च है। गीली खाँसी होने पर यदि इसके कुछ दाने मुंह में रखकर चूसें या फिर इसको शहद में मिलाकर चाटने से बेहद राहत मिलती है। काली मिर्च आपके गले मे सर्कुलेशन को बढ़ाकर श्वांस-नली मे जमा देने वाले म्यूकस को बाहर निकालता है। जिससे आप चैन की नींद ले पाते हैं।

नींबू का अचार

नींबू

गीली खांसी में राहत पहुंचाने का सबसे अचूक उपाय नींबू है। लेमन ड्राप कैन्डीज़ या शहद के साथ नींबू वाली चाय बनाकर पीने से खाँसी धीरे धीरे चली जाती है।

मुलैठी

गीली खांसी को समाप्त करने का सबसे बेस्ट तरीका मुलैठी है। इसके सेवन से खांसी में कमी आती है बल्कि बलगम भी धीरे धीरे बह जाता है। प्रतिदिन मुलैठीयुक्त कैन्डी या मुलैठी का कोई सप्लीमेन्ट खाने से गीली खांसी धीरे धीरे समाप्त हो जाती है।

हल्दी

हल्दी बैक्टीरिया का शमन करती है और लगातार आ रही खांसी से निजात दिलाती है। थोड़े से हल्दी पाउडर में एक बड़े चम्मच शहद मिलाकर इसे थोड़ा- थोड़ा करके दिनभर चांटे ताकि खांसी धीरे-धीरे समाप्त हो जाए।

यदि आपकी खांसी काफी तीव्र हो और दो सप्ताह के बाद भी समाप्त ना हो तो डाक्टर की सलाह अवश्य लें।