गर्लफ़्रेंड को ख़ुश रखने के तरीक़े

नमस्कार दोस्तों! आप सभी प्रेमियों को आपके शुभचिंतक का प्यार। आज हम बेहद ही सीरियस टॉपिक पर बात करने जा रहे हैं, जिसमें मज़ाक की कोई गुंजाइश नहीं है, इसलिए ध्यान से आगे पढ़िए। कई प्रेमिकाओं के प्रेमियों की लगातार शिक़ायत आ रही है कि उन्हें उनके प्रेमी ख़ुश नहीं रखते, और बात-बात पर उनमें छोटी-बड़ी लड़ाई झगड़े और मन-मुटाव होता रहता है। अपने दोस्तों की इस हरक़त से हम बेहद दु:खी और शर्मींदा हैं। हमारा दिल दुखता है ये जानकर कि हमारी इतनी सलाहों के बावजूद भी प्रेमी जोड़े दु:खी हैं। इसलिए आज हम अपने तमाम प्रेमी दोस्तों के लिए कुछ ऐसा इलाज लेकर आये हैं, जिन्हें अपनाने के बाद हर प्रेमी की प्रेमिका कोयल की तरह ख़ुशी से उनका बताया भजन गायेगी। यानि हर लड़का अपनी गर्लफ़्रेंड को ख़ुश रखने में सफल होगा।

गर्लफ़्रेंड को ख़ुश रखने के लिए…

गर्लफ़्रेंड को ख़ुश रखने के टिप्स

1- शिक़ायत न करें

गर्लफ़्रेंड को ख़ुश रखने के टिप्स में सबसे पहला ये है कि कभी भी अपनी प्रेमिका से किसी भी बात के लिए कोई भी शिक़ायत न करो। चाहे वो दिन रात किसी दूसरे लड़के के साथ फ़ोन पर चिपकी रहे, या हमेशा दूसरे लड़के की तारीफ़ करे, हमेशा याद रखो तुम जितना उसे ख़ुश रखोगे, जितना उसे अपनापन दिखाओगे वो उतना तुम्हे पसंद करेगी। यदि एक बार उसने तुम पर से अपना दिल हटा लिया तो लाख ख़ुशियों के बाद भी उसे न पा सकोगे और तब हम भी तुम्हारी कोई मदद नहीं कर पायेंगे। याद रहे जब ग़लती तुम्हारी हो तो तुरंत मान लो और यदि ग़लती उसकी हो तो तब भी बिना एक पल गँवाये तुम्हें ही सॉरी बोलना होगा और बुज़ुर्गों ने कहा है कि एक मयान में कभी दो तलवार नहीं रह सकती और रिश्ता बरक़रार रहे इसके लिए किसी एक को अपनी ग़लती तो माननी ही पड़ेगी। तो आप ही पहल कर लो मेरे भाई।

2- प्यारे प्यारे मैसेज और चुटकुले भेजो

अपनी महबूबा को हर रोज़ प्यार मोहब्बत वाले मैसेज करो, ये आजकल का लव डोज़ है और इससे रिश्ता हरा भरा रहता है। याद रखें कि मैसेज हमेशा सबसे अलग होने चाहिए। तुम्हारे मैसेज की घंटी उसके मोबाइल में ही नहीं बल्कि डायरेक्ट उसके दिलो-दिमाग में बजनी चाहिए। एक बार वो घंटी बज गई तो फिर तो तुम्हारी गर्लफ़्रेंड हमेशा ही ख़ुश रहेगी। अरे भाई अब मैसेज भेजना भी हमीं सिखायेंगे क्या?

3-प्यार भरे तोहफ़ा देना

गर्लफ़्रेंड को ख़ुश रखने के लिए मैसेज भेजते भेजते ये मत भूल जाना कि प्रेम कहानी में तोहफ़ा देना सबसे अच्छा माना गया है। ये बताने के लिये कि हम किसी को कितना प्यार करते है, तोहफ़े से बढ़िया कुछ नहीं। तोहफ़े में छिपा प्यार जब आपकी प्रेमिका देखेगी तो वो चाहे आपसे कितना भी नाराज़ क्यों न हो वो कभी भी ख़ुद को आपसे दूर नहीं रख सकेगी, और आपके पास खिंचती हुई चली आयेगी।

4-हमेशा काम आना

दोस्तों ये वाला तरीक़ा गर्लफ़्रेंड को ख़ुश रखने का सबसे ज़बरदस्त तरीक़ा है। तुम्हारी जानेमन को जब भी कोई प्रॉब्लम हो तो इससे पहले कि वो इसके बारे में तुम्हे बताये, तुम ख़ुद ही उसके सभी प्रॉब्लम का समाधान कर दो वो भी तुरंत, बिना एक सेकेंड गँवाये। तुम्हारे होते हुए उसे कोई भी प्रॉब्लम हो, ये तो तुम्हारे लिये बड़े शर्म की बात है। अगर वो तुम्हारी प्रेमिका नहीं भी है तो तब भी वो एक लड़की है और हमें बताने की ज़रूरत नहीं पड़नी चाहिए कि तुम्हें उसके साथ प्रेम भरा व्यवहार करना चाहिए।

5- ख़ूबसूरती की तारीफ़ में कंजूसी मत करो

ये बात तो एक बच्चा भी जानता है कि इस दुनिया में हर इंसान अपने बारे में अच्छा सुनना चहता है। सभी को अपनी तारीफ़ सुननी दुनिया में सबसे अच्छा लगता है, फिर चाहे मानो या न मानो, जब बात किसी लड़की की हो तो तारीफ़ का पिटारा दिल खोल के लुटाना चाहिए। क्योंकि लड़कियों की जितनी तारीफ़ करो वो कम ही है। इसलिए हमेशा अपनी दिलरूबा की दिल खोलकर तारीफ़ करनी चाहिए। उसे ये महसूस कराओ कि तुम्हारे लिये वो क्या है? उसे खुलकर बताओ कि उसके जैसी शानदार कन्या तुमने आजतक नहीं देखी। क्या रवीना, क्या करीना सब उसके सामने चीनी कम पानी हैं। एकबार वो लपेटे में आ गई फिर देखना तुम्हारे हर एक शब्द सीधे उसके दिल पर उतरेंगे और जब कोई बात दिल पे उतर जाती है तो इंसान उसे कभी भी नहीं भूलता।

6- लड़की के बात ध्यान से सुनो

एक बात हमेशा ध्यान रहे कि, अगर तुम्हारी गर्लफ़्रेंड तुमसे कोई बात कर रही है तो अपने सारे दुख परेशानी पीछे छोड़कर सिर्फ़ और सिर्फ़ उसे ही ध्यान से सुनो, ग़लती से भी कभी भी उसकी किसी भी बात को नज़रअंदाज़ करने की भूल न करना। यदि तुमने ऐसा किया तो वो तुम्हें ऐसे भूल जायेगी जैसे नेता लोग चुनाव के बाद अपने वादे भूल जाते हैं।

7- प्रेमिका को पाने का मंत्र

सबसे बड़ा प्रेमिका को पाने का मंत्र ये है कि हमेशा अपनी प्रेमिका को इतनी इज्ज़त, प्यार, दुलार और सम्मान दो; जितना उसे कभी किसी ने नहीं दिया हो। फिर देखो तुम्हारी जानू मतलब महबूबा हमेशा कैसे तुम्हारे बाँहों में रहती है।
ये कुछ फूल हम अपनी सोच की बग़िया से चुनकर तुम्हारे लिये लाये थे, इन्हें घोलकर पी जाओ और आज से बल्कि अभी से अपने जीवन में उतार लो। दोस्तों अब हमें इजाज़त दो। हमें भी जाना है अपनी महबूबा को मनाने, तुम्हारे लिये ये फुल चुनते-चुनते हम अपनी जान से पूछना ही भूल गये कि उन्होंने खाने के साथ सलाद में क्या क्या खाया।

याद रखो दोस्तों हमेशा की तरह अगर आपको कोई भी प्रॉब्लम हो तो आप कमेंट बॉक्स में अपना कमेंट लिखो, हम हमेशा की तरह आपकी समस्या का समाधान ज़रूर ढूँढ़ लेंगे।