मुलेठी एक गुणकारी औषधि है। यह सेहत के लिए बहुत ही फ़ायदेमंद है। प्राचीन काल से ही मुलेठी का उपयोग कई तरह की बीमारियों को दूर करने के लिए किया जाता रहा है। आयुर्वेद में भी मुलेठी या लिकोरिस (Licorice) या नद्यपान की सूखी जड़ का उपयोग उपचार के लिए किया जाता रहा है। यह सूजन दूर करने, महिलाओं के सौंदर्य को निखारने, वज़न घटाने में, भूख बढ़ाने में, दांतों की देखभाल करने में और पीरियड्स से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में बहुत मदद करती है।

मुलेठी के फ़ायदे

मुलेठी का पौधा

Mulethi Ke Fayde | Licorice Benefits

1. पोषक तत्व

मुलेठी में विटामिन बी, विटामिन ई, फॉस्फोरस, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, पोटेशियम, सेलेनियम, सिलिकॉन और ज़िंक जैसे कई सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं।

2. एंटीऑक्सीडेंट गुणों से युक्त

यह एंटीऑक्सीडेंट गुणों से युक्त है इसीलिए इसके सेवन से आपका शरीर वायरस, बैक्टीरिया और बुरे संक्रमण से बचा रहता है। मुलेठी की चाय पीने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है जिससे आप रोगों से बचे रहते हैं।

3. सर्दी, खांसी व ज़ुकाम को दूर करें

सर्दी के मौसम में अक्सर लोग सर्दी, खांसी व ज़ुकाम से पीड़ित रहते हैं। इससे बचने के लिए थोड़े से शहद में मुलेठी का चूर्ण आधा चम्मच मिलाकर सेवन करने से भी बहुत आराम मिलती है।

4. गले की खराश दूर करने के लिए

यदि गले में ख़राश की समस्या हो तो मुलेठी कैंडीज़ को चूसें, फ़ायदा मिलेगा। इसको चूसने से गले की ख़राश ठीक होती है।

5. वज़न घटाने के लिए

मोटापा एक गंभीर समस्या है और अगर इस पर पहले से ध्यान न दिया जाए तो यह कई अन्य बीमारियों का कारण बन जाता है। ऐसे में आप मोटापे को कम करने के लिए मुलेठी का तेल उपयोग करें। इस तेल से मालिश करें। यह वज़न घटाने में मदद करता है।

6. दांतों की देखभाल के लिए

दांतों की उचित देखभाल के लिए आप मुलेठी की जड़ के पाउडर का उपयोग ब्रश करने के लिए करें। इसके अलावा आप इसकी एक नरम छड़ी का उपयोग दातून की तरह उपयोग कर सकते हैं। इससे आपके दांत मजबूत व चमकदार बनते हैं।

मुलेठी की जड़

7. भूख बढ़ाने के लिए

कुछ लोग ऐसे होते हैं जिन्हें बहुत कम भूख लगती है। अगर आप भी भूख न लगने की समस्या से परेशान है तो मुलेठी का छोटा टुकड़ा कुछ देर के लिए चूसें। इस उपाय को दिन में 3 बार करने से भूख न लगने की समस्या धीरे धीरे दूर हो जाती है।

8. शारीरिक कमज़ोरी दूर करे

6 ग्राम मुलेठी के चूर्ण को 30 ग्राम दूध के साथ मिलाकर सेवन करें। इससे कुछ ही दिनों में ज़बरदस्त असर नज़र आएगा।

9. मासिक संबंधी रोग में

जिन महिलाओं को मासिक धर्म में बहुत अधिक दर्द होता हो या फिर मासिक धर्म समय से पहले या बाद में आता हो तो इस परेशानी से बचने के लिए 1 महीने तक आधा चम्मच लिकोरिस पाउडर शहद में मिलाकर चाटने से इस समस्या से निजात मिलेगा।

10. फोड़े, फुंसी व सूजन दूर करें

शरीर के किसी भी भाग में फोड़े, फुंसी व सूजन हो तो इसे दूर करने के लिए फोड़े, फुंसी व सूजन की जगह पर मुलेठी के चूर्ण का लेप लगाए। इससे बहुत आराम मिलेगा।

मुलेठी के नुक़सान

– आवश्यकता से अधिक मात्रा में इसका सेवन करना सेहत के लिए हानिकारक है।

– अगर आप मधुमेह व गुर्दे की बीमारी से परेशान है तो इसका सेवन न करें।

– गर्भवती महिलाओं को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

loading...