मीठा खाने से होने वाले नुकसान

भारतीय परंपरा में भगवान को मीठे का भोग लगाया जाता है। किसी भी तरह के त्यौहार पर मीठा बनाने और छोटी छोटी खुशियों पर मुँह मीठा कराने का रिवाज़ है। इसके अलावा कुछ लोग खाना खाने के बाद मीठा खाना बेहद पसंद करते हैं। लेकिन कुछ लोग तो मीठे के इस क़दर दीवाने होते हैं कि आप घर के किसी भी कोने में मीठा छुपा कर रखें, वो मीठे को ढूँढ़कर खा ही लेते हैं। मीठे के लिए दीवानगी अच्छी बात है लेकिन हद से ज़्यादा मीठे के प्रति दीवानगी सेहत को नुकसान पहुँचा सकती है और आपको कई बीमारियों जैसे मोटापा, डायबिटीज, ब्लड प्रेशर आदि का शिकार बना सकती है। क्योंकि अति हर चीज़ की बुरी होती है। आज हम भी आपको मीठा खाने से होने वाले नुकसान के बारे में बताने जा रहे हैं…

मीठा खाने के नुकसान

मीठा खाने के नुकसान

1. दांतों को नुकसान

मीठा खाने से सबसे ज़्यादा नुकसान हमारे दांतों को होता है। क्योंकि ज़्यादा मीठा खाने से दांतों में सड़न या दांतों में कीड़े लगने की समस्या होने लगती है। इसलिए अपने दांतों को स्‍वस्‍थ और मजबूत बनाने के लिए मीठा और चीनी से बने आहार से बने आहार से बचने की कोशिश करें। साथ ही सुबह और रात को सोने से पहले ब्रश भी ज़रूर करें।

2. मोटापा

आज के समय की युवा पीढ़ी कोल्ड ड्रिंक, पेस्ट्री, केक, चॉकलेट व कैंडी जैसे मीठे पदार्थों का अत्यधिक सेवन करना पसंद करते हैं। जबकि ये सारी चीज़ें बहुत मीठी होती है जो आपके शरीर में फैट को एकत्रित करके मोटापे का शिकार बनाती है। मोटापा अपने आप में कई रोगों जैसे हृदय रोग, हाइपरटेंशन, ऑर्थराइटिस आदि को जन्म देता है। इसीलिए मीठा खाने से बचने की कोशिश करें। इसके अलावा प्यास लगने पर कोल्ड ड्रिंक, शर्बत आदि को पीने के बजाय फलों के प्राकृतिक जूस व नारियल पानी का सेवन आपकी सेहत के लिए ज़्यादा फ़ायदेमंद है।

3. कोलेस्ट्रॉल

मीठे का अधिक मात्रा में सेवन करने से कोलेस्‍ट्रॉल का लेवल बढ़ जाता है इसीलिए कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित में रखने के लिए मीठे और इसके प्रयोग से बने खाद्य पदार्थों का सेवन करने से बचना चाहिए।

4. हृदय रोग

जाने अनजाने हम लोग ऐसी कई चीज़ों का सेवन करते हैं, जो स्वाद में मीठी होती है। इन मीठी पदार्थों का अधिक मात्रा में सेवन करने से आप न केवल मोटापे के शिकार होते हैं बल्कि हृदय रोग से जुड़े रोग होने की संभावना बढ़ जाती है। इसीलिए आपने आहार में अधिक मीठे आहार का सेवन करने से बचें।

5. डायबिटीज

जो लोग मीठे का अधिक सेवन करते हैं उन लोगों के रक्त में शुगर की मात्रा बढ़ने लगती है और इस कारण से उन लोगों को डायबिटीज जैसी ख़तरनाक बीमारी होने की संभावना बढ़ जाती है। इसीलिए मीठा के सेवन से बचने की कोशिश करें।

6. ब्लड प्रेशर

जो लोग अपने आहार में मीठा या चीनी से बने आहार का अधिक मात्रा में सेवन करते हैं। उन लोगों में उच्च रक्तचाप का खतरा बढ़ जाता है। इसीलिए मीठे आहार का सेवन कम करने की कोशिश करें।

मीठा खाने की आदत से बचने के उपाय

मीठे खाने की आदत को आप एक दिन में कम नहीं कर सकते हैं लेकिन इसे धीरे धीरे कम करने की कोशिश तो कर सकते हैं। यदि आप इन निम्न तरीकों को अपनाएंगे तो यकीनन इस आदत से भी जल्दी छुटकारा पा जायेंगे।

– डिब्बाबन्द जूस की जगह प्राकृतिक जूस का सेवन करें।

– प्यास लगने पर शरबत की जगह नारियल पानी का सेवन करें।

– जब भी मीठा खाने का मन करें तो उस समय आप कुछ फल या सूखे मेवे का सेवन कर लें।

इस तरह से आप इन उपायों को अपनाकर आप अपने मीठा खाने की आदत को कुछ कम कर सकते हैं।

Previous articleहाथ पैर में दर्द, सूजन और जलन का उपचार
Next articleप्रजनन क्षमता को बढ़ाने के टिप्‍स