आज के समय में हर दम्पति माता पिता बनने का सुख भोगना चाहते हैं। लेकिन इस सपने को साकार करने में प्रजनन क्षमता की अहम भूमिका होती है। लेकिन कई बार यह सपना अधूरा रह जाता है क्योंकि आजकल कई कारणों से लोगों में प्रजनन क्षमता कमज़ोर होती जा रही है। फ़र्टिलिटी कमज़ोर होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे मानसिक तनाव से ग्रस्त होना या अनुचित आहार या बहुत अधिक पतला या कमज़ोर होना आदि। इसीलिए आज हम आपको प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के कुछ टिप्स बताने जा रहे हैं ताकि आप इन बातों को ध्यान में रखते हुए शादीशुदा ज़िंदगी का निर्वाह करें और मातृत्व सुख को भी भोग कर सकें।

प्रजनन क्षमता

प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के टिप्‍स

1. पोषक तत्वों से युक्त आहार लें

प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए महिला हो या पुरुष दोनों को ही पोषक तत्‍वों से युक्त आहार ग्रहण चाहिए। ताकि शरीर हष्ट पुष्ट बना रहें और गर्भ धारण करने में किसी भी तरह की दिक्कत न हो।

2. बढ़ते हुए वज़न को संतुलित करें

कुछ महिलाएं ऐसी होती है जो बहुत अधिक वजन के कारण गर्भवती नहीं हो पाती है। इसीलिए सबसे पहले अपने बढ़े हुए वजन को संतुलित करने की कोशिश करें।

3. आराम करने के लिए समय निकालें

यदि आप दिन भर काम करते रहते हैं और सही समय पर आराम नहीं करते हैं तो नींद पूरी न होने के कारण आप तनाव ग्रस्त हो सकते हैं। यह आपकी कामेच्छा को भी प्रभावित करता है। जिससे आपकी प्रजनन क्षमता पर बहुत अधिक असर पड़ता है। इसीलिए भरपूर आराम भी करें।

4. नशा करने या धूम्रपान करने की आदत को छोड़ें

प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए धूम्रपान या शराब पीने की आदत को छोड़ना होगा। क्योंकि धूम्रपान करने वाले पुरुषों व महिलाओं प्रजनन करने की क्षमता कम हो जाती है, साथ ही उनके गर्भाशय में भ्रूण का आरोपण भी रुक सकता है। इसके अलावा अल्कोहल का अत्याधिक सेवन करने से शुक्राणु का उत्पादन और अण्डोत्सर्ग खराब होता है। इसीलिए सबसे पहले मादक पदार्थो का सेवन करने से बचें।

5. दूध से बने पदार्थों का सेवन करें

एक शोध के अनुसार वे महिलाएं जो दिन में एक बार पूर्ण वसा युक्त आहार लेती हैं उनमें बांझपन का ख़तरा एक चौथाई तक घट जाता है। क्योंकि दूध से बने उत्पाद अंडाशयों को अच्छी तरह से कार्य करने में सहायक होते हैं। इसीलिए दूध से बने उत्पाद का सेवन ज़रूर करें।

6. अधिक से अधिक पानी पिएं

प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए अधिक से अधिक पानी पिए क्योंकि पानी फूले हुए अंडकूप बनाता है और प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। इसीलिए पानी ख़ूब पिए।

7. कार्बोहाइड्रेट युक्त आहार का सेवन कम करें

एक शोध के अनुसार प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए उच्च कार्बोहाइड्रेट युक्त आहार जैसे मैदे की ब्रेड, पास्ता आदि का सेवन करने से बचना चाहिए क्योंकि ये आहार रक्त शर्करा को तुरंत बढ़ाते हैं जिससे इन्सुलिन बढ़ जाता है और इसे प्रजनन क्षमता क्षीण हो सकती है। इसीलिए इनका सेवन करने से बचें।

प्रजनन क्षमता
Increase woman fertility

8. शारीरिक व्यायाम करें

प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए आप थोड़ा व्यायाम भी ज़रूर करें। इससे शरीर में रक्त का संचार अच्छे से होता है और आप शारीरिक व मानसिक रूप से फिट भी रहते हैं।

9. बहुत अधिक दुबले पतले न रहें

यदि आप बहुत अधिक दुबले पतले हैं तो बहुत अधिक दुबले पतले होने के कारण आपका शरीर गर्भ धारण नहीं कर पाता है। इसीलिए फ़र्टिलिटी को बढ़ाने के लिए शारीरिक रूप से बलिष्ट बनें।

10. विटामिन डी लें

प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए स्त्री और पुरुष दोनों धूप में थोड़ी देर ज़रूर बैठे, जिससे सूर्य की किरणों से आपको विटामिन डी प्राप्त होता है और इससे आपकी प्रजनन क्षमता भी बढ़ती है।

11. एंटीऑक्सीडेंट से युक्त आहार लें

फ़र्टिलिटी बढ़ाने वाले आहार में एंटीऑक्सीडेंट से युक्त आहार को शामिल करें। एंटीऑक्‍सीडेंट सबसे ज़्यादा हरी सब्जियों, टमाटर, हरी मिर्च और संतरे में मिलता है इसलिए इन आहार का सेवन अधिक मात्रा में करें।

12. ओमेगा 3 फैटी एसिड

सालमोन और अलसी के बीजों में पाया जाने वाला ओमेगा-3 फैटी एसिड प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में और गर्भपात के खतरे को कम करने में बहुत सहायक है। इसलिए अगर आप अपनी प्रजनन क्षमता को बढ़ाना चाहते है तो ओमेगा-3 फैटी एसिड का सेवन करें।

13. फोलिक एसिड

फोलिक एसिड से भरपूर आहार जैसे गोभी, बीट रूट, केला, ब्रोकली, अं‍कुरित दालें आदि का भरपूर सेवन करें क्‍योंकि फोलिक एसिड प्रजनन क्षमता को बढा़ कर जल्‍द गर्भधारण करने में मदद करता है।

इनके अलावा गर्भधारण करने में किसी भी तरह की समस्‍या होने पर गायनोकोलॉजिस्‍ट से सलाह भी अवश्य लें।