सेक्स संबंधित समस्‍याओं के कारगर उपाय

भागदौड़ की ज़िंदगी और अनियमित, असंयमित खान-पान के कारण एक तो पुरुषों के शरीर में पोषक तत्‍वों का अभाव और दूसरे अन्‍य गलत आदतों के कारण दुर्बलता आने से सेक्स संबंधी समस्‍या पैदा होती हैं। इनमें प्रमुख रूप से शीघ्र पतन, स्‍वप्‍नदोष, सेक्स की इच्‍छा न करना, धातुदोष, नपुंसकता आदि हैं। इन्‍हें घरेलू उपचारों से ठीक किया जा सकता है।

सेक्स संबंधित समस्‍याओं का सरल उपचार

सेक्स संबंधित समस्याओं का हल

सेक्स क्षमता बढ़ाने के उपाय

– एक सेब व एक बड़ा नींबू लीजिए, दोनों में जितनी लौंग समा सके, खोंस दीजिए। दोनों को एक सप्‍ताह तक किसी बर्तन में ढककर रख दीजिए। इसके बाद दोनों फलों को निकालें और दोनों में से लौंग निकालकर अलग-अलग किसी शीशी में रख दें। जब औषधि लेना शुरू करें तो पहले दिन नींबू वाली दो लौंग लें और उसे कूटकर बकरी के दूध के साथ सेवन करें। दूसरे दिन सेब वाली लौंग का। इसी तरह बदलकर चालीस दिन तक दो-दो लौंग खाएं। इससे सेक्स क्षमता काफी तेज़ी से बढ़ती है।

– सफेद प्‍याज के रस में सौ ग्राम अजवायन भिगोकर सुखा लें। जब सूख जाए तो पुन: उसे सफेद प्‍याज के रस में भिगोकर सुखाएं। इस तरह तीन बार करें। इसके बाद इसे कूटकर इसका चूर्ण किसी शीशी में रख लें। एक चम्‍मच मिसरी में आधा चम्‍मच यह चूर्ण मिलाकर खाएं और ऊपर गुनगुना गर्म दूध पी लें। एक माह के प्रयोग से सेक्स क्षमता में अप्रत्‍याशित वृद्धि हो जाती है। इस दौरान संभोग नहीं करना चाहिए।

– गोखरू, क्रौंच के बीज व उंटगन के बीज 200-200 ग्राम लें। सभी को साफ कर अलग-अलग कूटकर छान लें और एक में मिलाकर किसी शीशी या बोतल में भरकर रख दें। ढक्‍कन ठीक से बंद करें। रात को खाना खाने के बाद इसमें से एक चम्मच लेकर फांक लें और ऊपर से एक गिलास गुनगुना दूध पी लें। यह औषधि खत्‍म होते-होते आपकी स्‍टेमिना इतना बढ़ जाएगी कि स्‍त्री साथी आपकी तारीफ़ करते नहीं थकेगी। उच्‍च रक्‍तचाप वालों को यह औषधि नहीं लेनी चाहिए।

– सेक्स क्षमता में वृद्धि के लिए 200 ग्राम लहसुन पीसकर उसमें 60 मिली मधु मिलाएं। इसे एक साफ शीशी में भरकर ढक्‍कन बंद करें और किसी अनाज में 31 दिन के लिए दबा दें। 32वें दिन से दस ग्राम मात्रा में इसे चालीस दिन तक सेवन करें।

सेक्स स्टेमिना बढ़ाने के उपाय

– तुलसी के बीज 15 ग्राम व सफेद मूसली 30 ग्राम मिलाकर चूर्ण बना लें, इसमें 60 पिसी हुई मिसरी मिला दें और किसी शीशी में रख लें। 5 ग्राम चूर्ण गाय के दूध के साथ सुबह-शाम सेवन करने से सेक्स क्षमता में वृद्धि होती है।

– एक चम्‍मच मधु में एक चम्‍मच हल्‍दी चूर्ण मिलाकर सुबह खाली पेट सेवन करने से वीर्य गाढ़ा होता है और सेक्स की क्षमता में वृद्धि होती है और सेक्स संबंधी समस्याएँ ख़त्म हो जाती हैं।

– क्रौंच के बीज, गोखरू, सूखा आंवला, सफेद मूसली व गुड़ुचि का सत्‍व समान मात्रा में मिलाकर चूर्ण बना लें। रात को सोते समय एक चम्‍मच चूर्ण, एक चम्‍मच मिसरी व एक चम्‍मच देशी घी मिलाकर लें, इसके बाद एक गिलास गर्म दूध पीयें। इससे सेक्स क्षमता में अभूतपूर्व वृद्धि होती है।

– समान मात्रा में पीपल का फल व पीपल की कोमल जड़ लेकर पीस लें, दो चम्‍मच यह पिसी हुई चटनी लें और 100 मिली दूध व 400 मिली पानी में मिलाकर पकाएं। जब मिश्रण एक चौथाई रह जाए तो उसे छानकर आधा कप सुबह-शाम पीने से वीर्य व सेक्स क्षमता में आशातीत वृद्धि होती है।

नपुंसकता का इलाज
Sex life age factors

संभोग शक्ति बढ़ाने के उपाय

– सफेद प्याज व अदरक का रस लें इसमें देशी घी व मधु पांच-पांच ग्राम मिलाकर सुबह के समय सेवन करें। नियमित एक माह के सेवन से सेक्स क्षमता में अभूतपूर्व वृद्धि हो जाएगी।

– दो चम्‍मच आंवला का रस लें और उसमें एक छोटा चम्‍मच आंवला का चूर्ण व एक चम्‍मच मधु मिलाकर सुबह-शाम सेवन करें। नियमित सेवन से सेक्स शक्ति में वृद्धि हो जाएगी।

– सफेद प्याज व अदरक का रस लें इसमें देशी घी व मधु पांच-पांच ग्राम मिलाकर सुबह के समय सेवन करें। नियमित एक माह के सेवन से सेक्स क्षमता में अभूतपूर्व वृद्धि हो जाएगी।

– दो चम्‍मच आंवला का रस लें और उसमें एक छोटा चम्‍मच आंवला का चूर्ण व एक चम्‍मच मधु मिलाकर सुबह-शाम सेवन करें। नियमित सेवन से सेक्स शक्ति में वृद्धि हो जाएगी।

– सेक्स क्षमता में वृद्धि के लिए रात को सोते समय एक गिलास पानी में थोड़ा आंवला चूर्ण डालकर ढककर छोड़ दें। सुबह इसमें हल्‍दी मिलाएं और छानकर पानी को पी जाएं।

शीघ्रपतन रोकने के उपाय

– क्रौंच की दो-तीन कोमल कली और आधा चम्मच उड़द की दाल पीसकर सुबह-शाम लेने से सेक्स क्षमता बढ़ती है।

– आधा किलो इमली का बीज लाएं। बीजों को बीच से तोड़कर आधा-आधा कर दें। इसके बाद इन्‍हें तीन दिन तक पानी में भिगो कर रख दें। तीन दिन के बाद छिलकों को निकालकर बीजों को खरल में डालकर पीस लें। इसमें आधा किलो पिसी हुई मिसरी मिलाकर कांच के खुले मुंह वाली एक चौड़ी बोतल में रख लें। आधा-आधा चम्मच सुबह-शाम दूध के साथ सेवन करें। इससे सेक्स संबंधी समस्या जैसे शीघ्रपतन दूर होता है और सेक्स क्षमता में अप्रत्‍याशित वृद्धि होती है।

शीघ्रपतन रोकने के उपाय

– वीर्य का पतलापन दूर करने के लिए ढाक के 100 ग्राम गोंद को तवे पर भून लें। फिर100 ग्राम तालमखाना को घी में भूनें। अब दोनों को बारीक काटकर मिला लें और सुरक्षित रख लें। सुबह-शाम भोजन करने से दो-तीन घंटे पूर्व इसमें से आधा चम्मच दूध के साथ सेवन करें। वीर्य गाढ़ा होने के साथ ही सेक्स क्षमता में भी बहुत ज़्यादा वृद्धि होती है।

– रात को सोते समय पांच मुनक्‍कों के साथ एक चम्‍मच त्रिफला चूर्ण ठंडे पानी के साथ लेने से पेट के सभी प्रकार के रोग, स्‍वप्‍न दोष व शीघ्र पतन में लाभ होता है।

– शीघ्र पतन के लिए आधा चम्मच सफेद प्याज का रस, आधा चम्मच मधु व आधा चम्‍मच मिसरी का चूर्ण मिलाकर खाना चाहिए।

– बिदारीकंद, अश्वगंधा व असगंध का चूर्ण 100-100 ग्राम लेकर मिला लें। इसमें से आधा चम्‍मच चूर्ण दूध के साथ सुबह-शाम लेने से वीर्य ताकतवर होता है और शीघ्र पतन से निजात मिलती है।

– आंवले के चूर्ण में मिसरी मिलाकर रात को पानी के साथ लेने से स्‍वप्‍नदोष की समस्‍या से छुटकारा मिलता है। स्‍वप्‍नदोष ज़्यादा हो रहा हो तो आंवले का मुरब्‍बा खाना चाहिए।

सुखी वैवाहिक जीवन
Happy married life

सेक्स इच्छा बढ़ाने के उपाय

– सेक्स की इच्‍छा व शक्ति बढ़ाने के लिए चार-पांच छुहारे, दो-तीन काजू व दो बादाम लें, इसे 300 ग्राम दूध में खूब अच्छी तरह से उबालें, उसमें दो चम्‍मच मिसरी मिलाकर रात को सोते समय लें।

नपुंसकता का उपचार

– कौंच के बीज व तालमखाना 100-100 ग्राम लें, इन्‍हें मिलाकर कूटकर चूर्ण बना लें। इसमें 200 ग्राम पिसी मिसरी मिला दें। गुनगुने गर्म दूध में आधा चम्‍मच चूर्ण मिलाकर रोज़ पीने से वीर्य गाढ़ा होता है और नपुंसकता दूर होती है।

– जायफल 15 ग्राम, हिंगुल भस्‍म 20 ग्राम, अकरकरा 5 ग्राम व केसर 10 ग्राम मिलाकर महीन पीस लें। इसमें मधु मिलाकर इमामदस्ते में घोंटकर चने के बराबर छोटी-छोटी गोलियां बना लें। रात को सोने से दो घंटा पहले दो गोलियां दूध के साथ लेने से सेक्स संबंधी समस्या जैसे लिंग का ढीलापन व नपुंसकता दूर हो जाती है।

– उंटगन, क्रौंच, तालमखाना 6-6 ग्राम लें और इसे 500 मिली दूध में पकाएं। जब दूध आधा रह जाए तो आग से उतारकर ठंडा कर लें। इसका नियमित 21 दिन तक सेवन करने से नपुंसकता दूर होती है।

– सूर्य डूबने से पहले बरगद के पत्‍ते तोडें, इसके पत्‍तों की जड़ से दूध निकलता है। बताशे पर दस-पंद्रह बूंद उसका दूध डालें और बताशे को खा जाएं। यह सेक्स संबंधी समस्याओं से जैसे वीर्य बनाने व सेक्स क्षमता में वृद्धि का कारगर उपाय है।

– समान मात्रा में गोखरू, सालम मिसरी, तालमखाना, क्रौंच के बीच, सफेद मूसली, ईसबगोल को लेकर बारीक चूर्ण बना लें। एक चम्‍मच चूर्ण मिसरी व दूध के साथ सुबह-शाम लेने से वीर्य व सेक्स क्षमता में वृद्धि होती है।

Previous articleलैटेक्स कंडोम के नुकसान
Next articleसेक्स संबंध में अति करने के नुकसान