स्किन एलर्जी की पहचान और उपचार

स्किन एलर्जी में ड्राई स्किन या एक्ने से त्वचा पर लाल धब्बे या लाल चकते पड़ जाते हैं, साथ ही सूजन भी आ सकती है। ऐसी हालत में शहद के लेप से बहुत राहत मिल सकती है। इसे प्राकृतिक एंटी-इंफ्लामेटरी दवा माना जाता है। हालांकि लू या सनबर्न की वजह से लाल चकते पड़ने पर शहद का लेप नहीं लगाना चाहिए। स्किन इंफेक्शन, स्किन एलर्जी और सूजन के अलावा ब्लड कैंसर भी त्वचा पर लाल-लाल धब्बे पड़ते हैं। इसलिए यह जानना जरूरी है कि यह त्वचा की एलर्जी है या फिर कोई दूसरी बीमारी है।

स्किन एलर्जी के लक्षण और उपाय

त्वचा की एलर्जी या कुछ और

1. ल्यूकेमिया

रेड स्पॉट कई गंभीर बीमारियों के भी प्रारंभिक संकेत होते हैं। विषैले कीड़े-मकोड़ों के काटने से भी रेड स्पॉट निकल आते हैं। इसके अतिरिक्त ल्यूकेमिया यानी ख़ून का कैंसर और मेनेंजाइटिस जैसी गंभीर बीमारियों में भी स्किन पर लाल चकते पड़ते हैं।

2. प्लेटलेट्स की कमी

अक्सर बच्चों की स्किन के ऊपर लाल चकते खून में प्लेटलेट्स कम होने पर देखे जाते हैं। कई बार एंटीबॉडीज़ भी प्लेटलेट्स की संख्या कम कर देती हैं। विटामिन बी-12 की कमी से आरबीसी का आकार बड़ा हो जाता है और हीमोग्लोबिन कम हो जाता है।

3. वायरल इन्फ़ेक्शन

हर्पिस बीमारी में भी बच्चों की त्वचा पर रेड स्पॉट हो जाते हैं।

डॉक्टरी परामर्श आवश्यक

खुजली, दर्द, स्किन रैश, त्वचा पर परत आना, त्वचा फूलना, भूख न लगना, फ्लू के संकेत, तेज बुखार, कंठ सूखना, आंखें लाल होना, सर्दी व नाक बहना।

स्किन एलर्जी से बचाव के घरेलू नुस्खे

1. एलोवेरा और कच्चे आम

फ्लू या हीटस्ट्रोक से रेड स्किन, जलन और सूजन होने पर एलोवेरा जेल या कच्चे आम को पका कर उसके गूदे का लेप लगाने से काफी राहत मिलती है। इस प्राकृतिक उपाय से स्किन एलर्जी दूर करने की ताकत है।

2. दिन में 10 गिलास पानी

आप जो पानी पीते हैं, वह न सिर्फ आपके शरीर को, बल्कि आपकी त्वचा को भी हाइड्रेट रखता है। दिन भर में 10 ग्लास पानी पिएं। यह आपको सनबर्न और फ्लू से बचाएगा।

Previous articleदाँतों की कैविटी से बचने के उपाय
Next articleचेहरे के बाल हटाने के घरेलू उपाय