स्मोकिंग छोड़ने के फ़ायदे

स्मोकिंग से होने वाले नुकसान के बारे में सभी जानते हैं। इसके बावजूद लोग स्मोकिंग की लत को अपनी आदत बना चुके हैं। एक स्टडी के मुताबिक भारतीय धूम्रपान करने में सबसे आगे हैं और वे एक दिन में लगभग 8.2 सिगरेट पी जाते हैं। सिगरेट के धुएं में 200 प्रकार के नुकसानदेह तत्व होते हैं। अगर स्मोकिंग की लत छोड़ दी जाए तो इंसान का शरीर वापस स्वस्थ भी हो सकता है और ये फ़ायदे समय के साथ पता चलते हैं। आइए जानते हैं कि वे प्रभाव कौन-कौन से हैं?
स्मोकिंग छोड़ने के लाभ

स्मोकिंग छोड़ने के स्वास्थ्य लाभ

1. दिमाग़ बढ़ता है

2-3 दिनों तक स्मोक नहीं करने से शरीर से अपने आप ही निकोटीन की मात्रा कम होने लगती है। ऐसे में दिमाग़ भी सही तरह से काम करता है।

2. ऑक्सीजन बढ़ती है

सिगरेट छोड़ने के 12 घंटे बाद शरीर में कार्बन मोनो ऑक्साइड का स्तर घटता है और तब जाकर ऑक्सीजन अपने सही स्तर पर लौटता है। कार्बन मोनो ऑक्साइड स्मोकिंग से शरीर को मिलने वाली ऐसी चीज़ है, जिससे शरीर में ऑक्सीजन का प्रवाह बाधित होता है।

3. हार्ट की समस्या नहीं होती है

सिगरेट छोड़ चुके व्यक्ति में एक साल के अंदर हार्ट अटैक का ख़तरा 50 फ़ीसदी घट जाता है। दस साल बाद फेफड़े के कैंसर का ख़तरा सिगरेट पीने वाले के मुकाबले आधा रह जाता है।

4. बीपी सामान्य रहता है

स्मोकिंग करने वालों का ब्लड प्रेशर हमेशा हाई हाता है। सिगरेट पीने के 20 मिनट बाद शरीर का रक्तचाप और दिल की धड़कन सामान्य हो जाते हैं। सिगरेट पीते समय निकोटीन के कारण ये दोनों ही बढ़ जाते हैं।

5. सेक्स करने की क्षमता बढ़ती है

धूम्रपान न करने से आपके शरीर में रक्त संचार ठीक प्रकार से होता है, जिससे आपकी सेंसिटिविटी बढ़ जाती है। जो आदमी धूम्रपान छोड़ देते हैं, उनका इरेक्शन बेहतर हो जाता है। वहीं औरतों में ऑर्गैज़्म सुधर जाता है, और वो जल्दी उत्तेजना महसूस करती हैं।

6. बच्चे पैदा करने की क्षमता बढ़ती है

स्मोकिंग न करने वाली महिलाएँ जल्दी प्रैग्नेंट हो जाती हैं। ये व्यसन छोड़ने से औरतों के गर्भ में लाइनिंग अच्छी हो जाती है और आदमियों के शुक्राणु अधिक पोटेंट हो जाते हैं। साथ ही गर्भपात की संभावना भी घट जाती है। सबसे महत्वपूर्ण एक स्वस्थ बच्चे का जन्म होता है।

7. त्वचा की चमक बनी रहती है

धूम्रपान न करने वाले व्यक्तियों के चेहरे पर झुर्रियाँ जल्दी नहीं आती हैं और समय से बुढ़ापा नहीं झलकता है। स्किन अधिक ऑक्सीजन के साथ साथ न्यूट्रिएंट्स अधिक अवशोषित करती है, जिससे आप आपकी स्किन का ग्लो दुबारा झकलने लगता है।

Previous articleवुलन एलर्जी के लक्षण और बचाव
Next articleहेपेटाइटिस ई गर्भवती महिला के लिए जानलेवा