तुलसी को अंग्रेजी में Holy Basil कहते हैं, यह Lamiaceae परिवार का ख़ुशबूदार पौधा है। इसका वैज्ञानिक नाम Ocimum Tenuiflorum है। यह भारतीय प्रायद्वीप का पौधा है परन्तु यह दक्षिण पूर्वी एशिया में बहुतायत में पाया जाता है। तुलसी का पौधा लगाना शुभ माना जाता है। तुलसी को देवी के रूप में माना जाता है इसलिए यह आज हर घर में पूजी जाती है। तुलसी के पोधे को साधारणतः मार्च से जून तक लगाते हैं। सितम्बर और अक्टूबर में यह पौधा सुगंधित मंजरियों से लद जाता है। जाड़े के दिनों में इसके बीज पक जाते हैं। तुलसी के बीज का उपयोग औषधि बनाने में किया जाता है।

तुलसी में कमाल की गुणकारी शक्ति है इसलिए इसे औषधीय पौधा माना जाता हैं। तुलसी के उपयोग से कई सारे रोगों का शमन हो जाता है। यह पित्तनाशक, कुष्ठ निवारक, पसली में दर्द, कफ, ख़ून में विकार के उपचार में रामबाण की तरह काम करती हैं। दिल के लिए यह अत्यंत उपयोगी औषधि है।

तुलसी के आठ नाम

वृंदा, वृंदावनि, विश्व पूजिता, विश्व पावनी, पुष्पसारा, नन्दिनी, तुलसी और कृष्ण जीवनी है।

तुलसी के लाभ

तुलसी के फायदे

1. शारीरिक घाव को जल्दी भरती है

तुलसी के औषधीय तत्त्व शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। एक शोध में यह पाया गया कि तुलसी का अर्क या तुलसी की पत्तियों को रोज़ाना सेवन करने से शरीर के घाव जल्दी भरने लगते हैं इसलिए रोज़ाना तुलसी की पत्ती का सेवन करें।

2. बैक्टीरिया से लड़ने की शक्ति देता है

बैक्टीरिया से संबंधित बीमारियों से बचने के लिए रोज़ तुलसी का सेवन करें क्योंकि तुलसी में बैक्टीरिया से लड़ने की अचूक शक्ति है।

3. मधुमेह में रक्त शर्करा को कम करती है

शोध से स्पष्ट हैं कि टाइप 2 मधुमेह वाले रोगियों में तुलसी का अर्क रक्त शर्करा को कम करने में सहायक है। अगर आपको मधुमेह है तो रोज़ाना तुलसी की कुछ पत्तियाँ सुबह ख़ाली पेट खाएं और स्वस्थ रहें।

4. कोलेस्ट्रॉल को कम करती है

एक शोध में यह पाया गया है कि तुलसी में मौजूद कई तत्व लो कोलेस्ट्रॉल LDL को कम करने में सहायक है। तुलसी आपके हृदय और आपको तनाव पूर्ण स्थिति में मानसिक शांति प्रदान करती है।

तुलसी की पत्तियाँ

5. एसिडिटी और पेट के अल्सर से बचाती है

तुलसी आपके पेट में बनने वाली एसिड की मात्रा को संतुलित करता है अगर आप रोज़ाना सुबह ख़ाली पेट कुछ पत्तियाँ तुलसी की चबा कर खाएं तो आपको एसिडिटी की तकलीफ़ से छुटकारा मिल जायेगा और पेट के अल्सर से भी बचाव होगा।

6. जोड़ों के दर्द से राहत दिलाती है

तुलसी जोड़ों के दर्द को कम करने में बहुत ही कारगर है। रोज़ाना 5 तुलसी की पत्तियों का सेवन करने से जोड़ों की सूजन कम होती है और दर्द में कमी आती है। तुलसी गुणों की खान है, इसके सेवन से आप कई रोगों से मुक्त और स्वस्थ रहेंगे।

7. दिमाग़ को तेज़ बनाती है

तुलसी के अर्क से बनी आयुर्वेदिक दवाई आपके दिमागी ताक़त को बढ़ाती है, यह दिमाग़ से तनाव को कम करती है और मानसिक कार्यक्षमता को बढ़ाती है।

सावधानी

तुलसी गुणकारी हैं लेकिन कुछ गम्भीर बीमारियों में इसका सेवन डॉक्टर की सलाह से करें। गर्भावस्था और रक्त स्राव वाली स्थिति में तुलसी का उपयोग नहीं करना चाहिए।

Keywords – Tulsi benefits, Tulsi health benefits, Tulsi medicinal benefits, Tulsi ke labh, Tulsi ke fayde, Tusli ke aushadhiya gun

loading...