एक महिला घर की नींव होती है जो जरा सा अस्वस्थ या कमज़ोर हो जाएँ तो पुरे घर के सभी लोगों की दिनचर्या और कामकाज अस्तव्यस्त हो जाते हैं। जबकि आज के समय में वर्किंग वुमन के पास न केवल घर बल्कि ऑफ़िस की भी ज़िम्मेदारी होती है इसलिए उन्हें अपने खान-पान पर अधिक ध्यान देना चाहिए क्योंकि पूरे परिवार की देखभाल करते करते महिलाएं अपनी सेहत पर ध्यान देना भूल जाती हैं, जबकि यह ग़लत है। अगर आप स्वस्थ होंगी तब ही तो आप अपने परिवार का अच्छे से ध्यान रख पाएंगी।

वर्किंग वुमन हेल्थ

वर्किंग वुमन का खान पान

डॉक्टरों के अनुसार वर्किंग वुमन की डाइट उनकी कार्यक्षमता के अनुरूप होनी चाहिए। इसके लिए उन्हे अपनी डाइट में विटामिन, जिंक, प्रोटीन और कैल्शियम वाली चीजें शामिल करनी चाहिए।

अगर आप भी वर्किंग वुमन है तो आज से अपना डाइट चार्ट बनाएं और उसी के हिसाब से डाइट लें और एक हेल्दी जीवन बिताएं।

प्रोटीन युक्त ब्रेकफ़ास्ट – सुबह का नाश्ता

वैसे तो सुबह की शुरुआत योग से होना चाहिए क्योंकि योग करेंगें तभी स्वस्थ और रोग मुक्त रहेंगें। अब बात नाश्ते की आती है तो सुबह के नाश्ते में आप अपने दिन की शुरुआत दूध, दलिया, कॉर्नफ़्लेक्स जैसी स्वास्थ्यवर्धक चीजों से कर सकते हैं। इसके अलावा एक फल ज़रूर खाएं। खासतौर से लाल, पीले या नारंगी रंग के फल खाएं, जैसे स्ट्रॉबेरी, सेब, पपीता या आडू आदि। इनमें विटामिन-ए की मात्रा भरपूर होती है। सुबह चाय की जगह आप स्किमड मिल्क, मटठा, ब्लैक टी या ग्रीन टी का सेवन स्वास्थ की दृष्टि से ज़्यादा अच्छा रहता है। इसके अलावा आप स्प्राउट्स या दूध के साथ ड्राई फ्रूट्स भी ले सकते हैं।

नाश्ते में कभी-कभार बदलाव के लिए आप ब्राउन ब्रेड या मल्टी ग्रेन ब्रेड से बना सैंडविच भी खा सकती हैं। कोशिश करें कि कार्बोहाइड्रेट्स की अपेक्षा प्रोटीन युक्त नाश्ता करें जिससे ज़्यादा से ज़्यादा कैलोरीज़ बर्न होगी इसलिए प्रोटीन युक्त नाश्ता करें।

लंच – दोपहर का खाना

ब्रेकफास्ट और लंच के बीच सिर्फ़ 4-5 घंटे का अंतर होना चाहिए। वर्किंग वुमन को लंच में पालक या ब्रोकली जैसी हरी सब्ज़ियों को शामिल करना चाहिए। गेहूं की रोटी की जगह बेसन या गेहूं और बेसन मिक्स रोटी खानी चाहिए। खाने में एक कटोरी दाल को ज़रूर शामिल करें। अधिक प्रोटीन के लिए लंच में पंच मेल दाल यानी पांच तरह की दालों को एक साथ बनाकर सेवन करना स्वास्थ के लिए उत्तम है। इसके अलावा दाल के साथ सलाद का सेवन ज़रूर करें। सलाद के लिए आप कटी हुई शिमला मिर्च में तेल डालकर थोड़ा सा ग्रिल कर लें। फिर उसमें कच्ची सब्ज़ियां, खीरा, ककड़ी, मूली, शलजम, सलाद का पत्ता, किशमिश और थोड़ा-सा नींबू डालकर खाएं।इसके अलावा आप रोटी के साथ हल्के तेल में पनीर फ्राई करके भी खा सकती हैं।

डिनर – रात का खाना

रात के समय तली भुनी खाने की चीज़ों के बजाय हल्का खाना जैसे पराठें की जगह रोटी और कम मसाले वाली सब्ज़ी खाएं। हल्के खाने में आप पोहा, चीला, सलाद, अंडे की सफेदी का ऑमलेट, उबला हुआ अंडा, कॉर्नफ़्लेक्स भी खा सकती हैं। इससे फ़ैट भी नहीं बढ़ता है और शरीर को ऊर्जा मिलती है। इसके अलावा आप सब्ज़ियों का सूप भी पी सकती है।

अगर आप भी एक वर्किंग वुमन हैं तो आप आज से ही एक बेहतर डाइट चार्ट को अपनाएं और हेल्दी जीवन बिताएं।