जब रिश्ते में कोई किसी का विश्वास तोड़ता है तो बहुत दर्द होता है, क्योंकि झूठ और धोखे से रिश्ते निभते नहीं बल्कि टूट जाते हैं, उनकी उम्र ज़्यादा नहीं होती। ब्रेकअप होने पर एक लड़की धोखेबाज़ लड़के के लिए सोचती है कि ऐसा उसने उसे धोखा क्यों दिया? जिसने दर्द दिया वो तो ज़िंदगी के इस मोड़ से आगे नई राह पर निकल जाता है, परंतु जिसे दर्द मिलता है उसकी हालत ख़राब हो जाती है। रिश्ते के टूटने पर हालातों से लड़कर आगे बढ़ना चाहिए और अपनी ज़िंदगी की नई शुरुआत करनी चाहिए। आइए जानते हैं कैसे-

ब्रेकअप होने पर लड़की के दिल का दर्द

ब्रेकअप होने पर लड़की के मन की स्थिति

1. ब्रेकअप होने पर लड़की यही कहती है कि उस लड़के ने मुझे धोखा दिया और मुझे छोड़कर चला गया। वो जब पीछे मुड़कर अतीत में देखती है तो उसे एहसास होता है कि एक इंसान ने उसकी भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया और उसका क़ीमती समय बर्बाद किया। वह ख़ुद को एक बड़ा बेवकूफ़ समझने लगती है कि उसने एक ऐसे व्यक्ति पर विश्वास किया जो उसके लायक़ नहीं था। उसे लगता है कि वह घर वालों की बात मानकर बेवफ़ा पर विश्वास न करती तो कितना अच्छा होता! ज़िंदगी में दर्द के धुँए की जगह दिल सुकून होता।

2. जब कभी धोखा खाने वाली लड़की रात में बिस्तर पर लेटती है तो वो सोचने लगती है कि ये बेड ज़्यादा अच्छा है। ये तकिया उस बेवफ़ा से कहीं ज़्यादा वफ़ादार है, बेजान है मगर उसके साथ है। कम से कम यह उसे धोखा धोखा तो नहीं देगा। इस तरह से पूरी रात उधेड़बुन में बीत जाती है और बेवफ़ा की याद में अंदर ही अंदर जलती रहती है। दग़ाबाज़ को भुलाने की कोशिश के अलावा अब वो कर ही क्या सकती है। पुरानी यादों को मिटाने का वो सम्भव प्रयास करती है। इस कोशिश में वह उसकी दी हुई चीज़ें फाड़ती हैं, खिड़की से बाहर से फेंकती है और रोती जाती है। सोचती है बस किसी तरह उस वेबफ़ा से जुड़ी हर चीज़ से दूर हो जाए और उसे ख़ुशी मिले।

3. धोखा खाने वाली लड़की के मन में एक अजनबी सा डर घर कर लेता है। अगर कभी उसका एक्स-बॉयफ्रेंड अपनी नई गर्लफ्रेंड को लेकर सामने आ गया और दोनों की निगाहें आपस में टकरा गईं तो पुरानी सब यादें एक एक आग की तरह उसके दिल को जलाने लगेंगी। उसके दिल में यह भी ख़याल आता है कि वो ख़ुद को अकेला और बेहद कमज़ोर न महसूस करने लगे। इसी डर के साए में वह कहीं आना जाना और दोस्तों के साथ समय बिताना कम कर देती है।

4. हालाँकि ब्रेकअप होने पर लड़की ग़म और अकेलापन से दोस्ती कर लेती है। लेकिन जब बात हद से बढ़ जाए तो कुछ एक लड़की ख़ुद को ख़ुश रखने के लिए पहले से अधिक पार्टियाँ और मज़े करने लगती हैं। ऐसे में नशे की लत भी लग सकती है। ऐसे में अगर दोस्त और घर वाले पूरा साथ न दें तो लड़की अपनी ज़िंदगी से सारी अपेक्षाएँ खो देती है।

5. ग़ुस्से और अकेलेपन की राह पर वो अपने खाने पीने की आदतों में बदलाव ले आती है। जो चॉकलेट पहले उसे प्यार का एहसास कराती थी, वह अब एक मीठी चीज़ लगने लगती है। उसके मन में एक्स-बॉयफ्रेंड को लेकर बहुत नफ़रत पनपने लगती है। ब्रेकअप होने पर लड़कीं को बार बार यही ख़याल आता है कि उसे पहले ही बॉयफ़्रेंड को डम्प कर देना चाहिए था, ताकि उसे ख़ुशी मिल सकती।

6. लड़की भी ज़िंदगी में आगे बढ़ना चाहती है लेकिन ख़ुद को ख़ुश रखने के लिए नहीं बल्कि उस लड़के को दिखाने के लिए। जब उसे पिछले वाले लड़के से बेहतर कोई मिल जाता है तो वह उससे प्यार करने वाले साथी की जगह एक टूल समझती है और अपने एक्स प्रेमी को जलाने की पूरी कोशिश करती है। ऐसे में वो अपने को ख़ुश और बेहतर दिखाने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है।

ब्रेकअप होने पर लड़की और भी कई तरह से बर्ताव करती हैं। ऊपर दिए प्वाइंट अधिकांश तौर पर देखने को मिलते हैं। आपको इन सब भावनाओं को समझना चाहिए। अगर आप भी धोखे के शिकार हैं तो आपको ख़ुद पर संयम रखते हुए ऐसी भावनाओं से बचना चाहिए। अगर आपका ऐसा कोई दोस्त इस स्थिति में हो तो उसका पूरा ख़याल रखें।

loading...