दही खाने से हमारे स्वास्थ्य को बहुत लाभ मिलता है। इसमें कुछ ऐसे रासायनिक पदार्थ पाए जाते हैं जो दूध की अपेक्षा जल्दी पच जाते हैं। दूध की अपेक्षा दही में प्रोटीन, लैक्टोज, कैल्शियम तथा विटामिन्स अधिक होते हैं। इसलिए दही को अधिक पोषक माना जाता है। इसलिए दही से बने पदार्थों का जैसे लस्सी, रायता और छाछ का अधिक से अधिक सेवन करें।

दही के प्रतिदिन सेवन से हड्डियां मज़बूत रहती हैं। पाचन क्रिया ठीक रहती है। भूख भी लगती है। यह पेट सम्बंधित कई रोगों का शमन कर उत्तम स्वास्थ्य रखता है। यह बवासीर के रोग को दूर करता है। जोड़ों के दर्द में राहत प्रदान करता है। बालों के उचित पोषण और त्वचा के लिए भी दही खाने पर लाभ मिलता है।

दही खाने के फ़ायदे

इससे पहली पोस्ट में आप दही का सेवन करने से मिलने वाले लाभ से तो अवगत हो चुके हैं। तो आज हम आपको दही खाने से पहले किन किन बातों का विशेष ध्यान रखना है, ये बताने जा रहे हैं। ताकि आप हमेशा स्वास्थ्य और हेल्दी बने रहें।

दही खाने से पूर्व आपको कुछ बातें जाननी आवश्यक हैं…

1. दही को कभी गरम करके न खाएं।

2. वसंत और शरद ऋतु में दही का सेवन करने से बचना चाहिए।

3. यदि प्रतिदिन दही खाना हो तो मूंग की दाल, शहद, घी, मिश्री एवं आंवले के साथ ही ग्रहण करें।

4. अगर दही अच्छी तरह से नहीं जमा हो तो उसे नहीं खाना चाहिए क्योंकि उसे खाने पर बुखार, रक्तपित्त, त्वचा रोग एवं पीलिया जैसे रोग उत्पन्न हो सकते है।

5. खांसी, कफ, पित्त, दमा और बुखार आदि में दही का सेवन नहीं करना चाहिए।

6. बासी व खट्टे दही का सेवन नहीं करना चाहिए। इसकी जगह पर हमेशा ताज़ा जमे दही का इस्तेमाल करना चाहिए।

7. दही का सेवन रात में नहीं करना चाहिए।

8. मांसाहारी भोजन का सेवन करते समय दही न खाएं।

9. मधुमेह के रोगियों को दही का सेवन संयम से करना चाहिए।

10. सर्दी, जुकाम, टॉन्सिल्स, अस्थमा एवं सांस के रोगी को दही खाने से बचना चाहिए।

11. मिट्टी के बर्तन में दही बनाने से उसके गुण बढ़ जाते हैं।

12. त्वचा रोगी को चिकित्सक से परामर्श कर ही दही का सेवन करना चाहिए ।

तो अब आप जब भी दही खाने चलें तो सेवन करने से पहले इन बातों का ज़रूर ध्यान रखें ताकि आपका स्वास्थ्य हमेशा बेहतर रहे।

loading...