आज महिलाएं हो या पुरुष हर कोई फ़ैशन के रंग में रंगना चाहता है, सुंदर व आकर्षक दिखना चाहता है। फ़ैशन के रंग में रंगना और उसके साथ चलना अच्छी बात है लेकिन फ़ैशन के कारण कुछ ग़लत आदतों को अपना लेना जैसे रोज़ाना हाई हील्स पहनना, ग़लत साइज़ की ब्रा पहनना, टाइट जींस पहनना, शेप वियर पहनना, हैवी बैग्स कैरी करना आदि फ़ैशन की आदतें सेहत के लिए हानिकारक है और यह आपकी सेहत को नुक़सान पहुँचा सकती हैं। इसीलिए इनसे बचने के लिए आप क्या करें इससे सम्बंधित नीचे कुछ सुझाव भी दिए गए है, जिन्हें अपनाकर स्वस्थ जीवन पाएँ…

फ़ैशन की आदतें

फ़ैशन की आदतें सेहत के लिए ख़तरा

1. हाई हील्स पहनना

फ़ैशन के रंग में रंगना और समय के साथ चलना अच्छी बात है। फ़ैशन के कारण रोज़ाना लड़कियां सबसे ज़्यादा हाई हील्स पहनना पसंद करती है। लेकिन रोज़ाना हाई हील्स पहनने की आदत उनकी सेहत को बहुत नुक़सान पहुँचा सकती है। नियमित हाई हील्स पहनने से घुटनों पर अतिरिक्त दबाव पड़ता है, जिसके कारण आप लोग आर्थराइटिस, बैक पेन, मसल्स पेन आदि की समस्या होने लगती है।

सुझाव –

इन समस्याओं से बचने के लिए

– डेढ़ इंच से ज़्यादा वाली हाई हील न पहनें।

– यदि हील्स पहनना है तो ख़ास अवसर पर ही पहनें।

– रोज़ाना हील्स की जगह स्टाइलिश प्लेटफॉर्म पहनें।

2. टाइट जींस पहनना

टाइट जींस का फ़ैशन होने के कारण लोग इसे पहनना पसंद करते हैं। लेकिन टाइट जींस, पैंट्स या ट्राउजर्स पहनने के कारण योनि में संक्रमण व कुछ अन्य समस्याएं हो सकती है। वहीं पुरुषों में भी फ़ंगल इंफ़ेक्शन, ब्लैंडर वीकनेस जैसी समस्याएं हो सकती है।

सुझाव –

– अच्छे ब्रांड वाली आरामदायक जींस ख़रीदें।

– टाइट स्किनी जींस की जगह अच्छे फैब्रिक वाली स्ट्रेचबेल जींस पहनें।

3. ग़लत साइज़ की ब्रा का चयन

एक शोध के अनुसार आज भी 85% महिलाएं ग़लत साइज़ की ब्रा पहनती है, जिसके कारण उन्हें बैक, नेक और ब्रेस्ट पेन, सांस लेने में कठिनाई, रक्त संचार में परेशानी जैसी कई समस्याएं हो सकती है।

सुझाव-

– सही फ़िटिंग और सही साइज़ की ब्रा पहनें। जिससे पहनने में आप आरामदायक फ़ील करें।

4. सस्ते और सिंथेटिक इनरवेयर

ज़्यादातर महिलाएं को ऐसे सिंथेटिक और फ़ैब्रिक वाले इनरवियर पसंद आते हैं जो देखने में तो सुंदर लेकिन पहनने में कमफोर्टेबल बिलकुल नहीं होते हैं। सस्ती क्वालिटी वाली इनरवेयर पहनने से इंफ़ेक्शन की समस्या भी हो सकती है। इसीलिए सस्ते और सिंथेटिक इनरवेयर का चयन कभी न करें।

सुझाव –

– हमेशा अच्छी क्वालिटी वाली इनरवेयर ही ख़रीदें।

5. स्लिम वियर / शेप वियर

आजकल के ग़लत खान पान और बदलती जीवन शैली के कारण सबसे ज़्यादा लोग टमी फ़ैट से परेशान है। इन टमी फैट्स को छुपाने के लिए लोग स्लिम वियर पहनते हैं। जबकि बहुत देर तक स्लिम वियर या शेपवियर पहनने से एब्डॉमिन और ब्लेंडर पर अतिरिक्त दबाव पड़ता है। इसके अलावा वेजाइनल इंफ़ेक्शन और ब्लेंडर इंफ़ेक्शन होने की संभावना बढ़ जाती है।

सुझाव –

– रोज़ाना शेपवियर पहनने के बजाय कभी कभी पहनें। या फिर इसे पहनना नज़रअंदाज करें।

– एक्सरसाइज़ और एरोबिक्स करने के लिए प्रोफ़ेशनल ट्रेनर की सलाह लें।

6. हैवी बैग्स

आमतौर पर महिलाएं हैवी बैग्स को कैरी करना पसंद करती है जबकि हैवी बैग्स उठाना सेहत के लिए हानिकारक है। हैवी बैग्स उठाने के कारण बैक पेन, कंधे में दर्द और गर्दन में दर्द हो सकता है।

सुझाव –

– बड़े और हैवी बैग्स की जगह छोटे और स्टाइलिश बैग्स लें।

– चौड़ी पट्टी और हैण्डल वाले बैग उपयोग करें।