फिटकरी क्रिस्‍टल की तरह होती है। यह एंटी बैक्टीरियल हैं, जो बैक्टीरिया को ख़त्म करती हैं इसीलिए सभी घरों में यह पानी को शुद्ध करने के लिए उपयोग की जाती है। फिटकरी के दो प्रकार की होते हैं – 1. रेड और 2. व्हाइट

आमतौर पर हम सभी लोग सफेद फिटकरी का उपयोग करते हैं। फिटकरी का रासायनिक नाम पोटैशियम एल्युमीनियम सल्फेट और रासायनिक सूत्र K2SO4Al2(SO4)3·24H2O है।

फिटकरी के काम

फिटकरी के फ़ायदे

दादी माँ के नुस्खों में आज हम आपको फिटकरी के फ़ायदों के बारें में बताएंगे

1. अगर बिच्छु काट लें तो उस स्थान पर फिटकरी पीस कर लगाने से उसके काटने का असर कम हो जाता है।

2. सिर में जूँ हो जाएँ तो फिटकरी के पानी से सिर धोएं इससे जूँ ख़त्म हो जाएँगी।

3. अगर चर्मरोग हो जाएँ तो रोज़ाना प्रभावित जगह पर फिटकरी के पानी से धोएं चर्मरोग चला जायेगा।

4. अगर दाढ़ी बनाते समय कभी कट जाए और ख़ून निकलने लगे तो उस जगह पर तुरन्त फिटकरी लगाने से ख़ून बंद हो जायेगा।

5. अगर कभी हैजा हो जाएँ तो फिटकरी का चूर्ण पानी में मिलाकर घूँट घूँट करके पीने से हैजा रोगी को बहुत आराम मिलता है।

ऐलो वेरा जेल से त्वचा की देखभाल

अन्य लाभ

6. अगर दाँत दर्द सताए तो फिटकरी और कालीमिर्च के चूर्ण को मिलाकर दाँतो पर मलने से तुरन्त राहत मिलती है।

7. मसूढ़े कमज़ोर हो या मसूढ़ों से ख़ून आएं तो फिटकरी के पानी से कुल्ला करें। इससे ख़ून आना बंद हो जायेगा।

8. नकसीर हो जाएँ तो 2 बून्द फिटकरी के पानी की डालने से ख़ून आना बंद हो जायेगा।

9. अगर दमा रोग और खाँसी से परेशान हो तो आधा ग्राम पिसी हुई फिटकरी को शहद में मिलाकर चाटे इससे बहुत लाभ मिलेगा।

10. दो ग्राम फिटकरी को 80 मिली पानी में घोलकर योनि को दिन में 2 से 3 बार धोने से योनि का ढीलापन समाप्त हो जाता है।

11. टांसिल की समस्या होने पर गर्म पानी में चुटकी भर फिटकरी और नमक डालकर गरारा करने से टांसिल की समस्या में जल्दी ही आराम मिलता है।

फिटकरी का उपयोग

– फिटकरी का उपयोग बारिश के मौसम में पानी को साफ करने के लिए किया जाता है।

Keywords – Fitkari Ke Fayde, Fitkari Ke Labh, Alum Health Benefits

loading...