सजन जी ! इस बार तो आपकी सजनी को आपके सारे रंग फीके लग रहे हैं। आपकी सजनी ने ऐसा रंग लगाने के लिए कहा जो कभी छुटाये न छूटे। सजनी जी प्रीत का रंग तो ठीक है, परन्तु असली मेहनत तभी होती है जब होली का रंग छुटाने की कोशिश करें, लेकिन वो छूटे नहीं। ये रंग आपकी त्वचा को बेहद नुक़सान भी पहुँचा सकते हैं। इस होली इन रंगों से कैसे बचें, ताकि सजन जी के रंग में सजनी रंग भी जाएं और ये होली का रंग हमे नुक़सान भी न पहुचाएं।

आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि होली खेलने से पहले व होली खेलने के बाद किन किन उपायों को अपनाकर हम इन रंगों से बच सकते हैं और अपनी त्वचा को इन रंगों से होने वाले नुक़सान से बचा सकते हैं।

होली का रंग छुड़ाने के उपाय

होली के रंगों से बचने के उपाय

आपकी त्वचा –

  • अगर आप बेफ़िक्र होकर होली का रंग उड़ाना और पानी के गुब्बारे फेंकने का पूरा मज़ा लेना चाहते हैं, तो रंग खेलने से पहले पूरे शरीर पर तेल से मालिश कर लें। ताकि आप इस बार सुरक्षित होली खेलें और शरीर पर ज़्यादा गाढ़ा रंग भी चढ़ न पाए। साथ ही रंग आपकी त्वचा को नुक़सान भी पहुँचा न पाए।

हाथ पैरों के नाखून –

  • होली में रंग से बचने के लिए नाखूनों पर पारदर्शी नेल पेंट लगा सकते हैं।
  • रंग से बचने के लिए नाखूनों पर जैतून का तेल लगा सकते हैं। इससे रंग कम चढ़ेगा।

सिर के बाल –

  • रंग खेलने से पहले बालों में नारियल तेल लगाकर मसाज करने से बालों पर रंग का प्रभाव नहीं पड़ता है।

होली का रंग छुड़ाने का उपाय

आपकी त्वचा –

  • दही एक अच्छे क्लींजर की तरह काम करता है। शरीर में जहां जहां रंग लगा हो वहां वहां हल्के हल्के हाथों से दही से मसाज करें।
  • पांच चम्मच गेहूँ का आटा, पांच चम्मच कड़वा तेल और एक चम्मच पानी को मिलाकर उबटन बना लें और इस उबटन को शरीर पर लगाएं। यह उबटन रंग को छुटाता है तथा रूप में निखार भी लाता है।
  • आधे कप ठंडे दूध में एक चम्मच कोई भी वेजीटेबल ऑयल (जैसे ऑलिव ऑयल, सनफ्लावर ऑयल) को मिक्स कर लें। इस मिश्रण में रूई की फोहे डुबो कर इसे चेहरे की त्वचा पर लगाएं और मसाज करें। इस तरह से चेहरे की त्वचा से रंगों को साफ़ करें।
  • जिनकी त्वचा ऑयली हो, वे आधा चम्मच नींबू का रस, एक चम्मच खीरे का रस और एक चम्मच ठंडे दूध को मिलाकर, इसे अपने चेहरे पर लगाएं और आराम से मसाज करें। फिर इसे 10 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर 10 मिनट बाद रूई के फाहे से साफ़ कर, चेहरे को पानी से धो लें।
  • आधा कप दही में दो चम्मच ऑलिव , एक चम्मच नींबू का रस, एक चम्मच शहद और थोड़ी सी हल्दी को मिला लें। अब इसे चेहरे, गले और बाजुओं में लगाएं। 15 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर पानी से धो दें। इससे रंग उतर जाएगा।
  • पका पपीता यह बहुत अच्छा क्लींजर है। शरीर में जहां जहां रंग लगा हो, वहां वहां पके पपीते के टुकड़े को रगड़ लें। रंग गायब हो जायेगा।
  • बेसन, दही, नींबू और एक चम्मच नारियल तेल को मिलाकर एक पेस्ट बना लें। इसे चेहरे और शरीर पर लगाकर हल्के हाथों से रगड़ें और फिर पानी से धो लें। रंग छूट जायेगा।

हाथ पैरों के नाखून –

  • रंग को छुड़ाने के लिए नाखूनों को ठंडे पानी से धोएं। फिर इसमें एक चम्मच बादाम का तेल, दो चम्मच नींबू के रस को मिक्स कर लें। इसमें उंगलियों को डुबोकर दस मिनट के लिए छोड़ दें। फिर नाखूनों को धो लें और शैमोइस लेदर के टुकड़े को नाखूनों पर रगड़ लें। इससे नाखूनों का रंग उतर जायेगा।

सिर के बाल –

  • यदि आप यह चाहते हैं कि होली के बाद आपके बाल पहले की तरह ख़ूबसूरत दिखें और शाइन करें; तो इसके लिए आप एक केले में थोड़ा सा मिल्क पाउडर और थोड़ा सा दूध मिलाकर मिक्सी में ब्लड कर लें। जब पैक पूरी तरह से तैयार हो जाए तो उसमें शहद डाल लें। इस पैक को बालों में लगाकर 20-25 मिनट तक बालों को खुला छोड़ दें और फिर बालों को धो लें। आपके बाल पहले की तरह सिल्की व शाइनी हो जायेंगे। इस तरह होली के बाद रूखे बालों की समस्या से आप बच जाएंगे।

Keywords – Holi colours, Holi colors, Holi festival, Holi festival of colours, get rid of Holi colours, Safe Holi, holi ka rang chhudaye

loading...