आप चाहे कितनी ही ख़ूबसूरत क्यों ना दिखती हों। अगर आपके चेहरे पर झाइयाँ पड़ जाएँ तो आपकी ख़ूबसूरती फीकी पड़ सकती है। धूप में अधिक घूमने से सूरज की तेज़ रोशनी चेहरे पर पड़ती है। जिस वजह से झाइयाँ होती हैं। इसके अलावा विटामिन सी, विटामिन ई और विटामिन बी कॉम्पलेक्स की कमी, स्वभाव में चिड़चिड़ापन, इम्यून सिस्टम का ठीक न होना, ख़ून की कमी और कब्ज़ आदि की शिक़ायत भी झाइयाँ होने के अन्य कारण हैं। झाइयों का उपचार करने और छुटकारा पाने के लिए कुछ बातें आपकी मदद कर सकती हैं –

झाइयों का उपचार

झाइयों का उपचार करने का आसान तरीक़ा

1. एक गिलास पानी में नीबू का रस, नमक और काली मिर्च पाउडर डालकर दिन में कम से कम तीन से चार बार पिएँ।

2 . अपनी डाइट में काला सफ़ेद चना, मूंग, मोठ आदि साबूत और अंकुरित करके खाने से झाइयाँ होने की आशंका कम हो जाती है।

3. यदि बीमारी आदि के कारण शरीर में विटामिन की अधिक कमी हो गई हो तो मल्टीविटामिन गोलियों का नियमित सेवन करें। विटामिन सी के नियमित सेवन से झाइयाँ होने की आशंका समाप्त हो जाती है। विटामिन सी नीबू, संतरा, मौसमी, हरी मिर्च और आंवला आदि में पाया जाता है।

4. रात को बादाम को थोड़े से दूध में भिगो दें। सुबह छिलका उतारकर उन्हें बारीक़ पीस लें। इस पाउडर में एक चम्मच संतरे का रस डालकर पेस्ट बनायें। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाये 20 से 25 मिनट बाद चेहरा धो लें। कुछ दिनों के नियमित प्रयोग से अंतर साफ़ नज़र आने लगता है।

5. संतरे के सूखे छिलके के पाउडर में गुलाब जल मिलाकर चेहरे पर लगाये सूखने के बाद धो दें।

6. टमाटर, खीरे और गाजर का रस बराबर मात्रा में मिलाकर त्वचा पर लगायें और 10 से 12 मिनट बाद चेहरा धो लें। दिन में दो बार इस मिश्रण को लगाये। त्वचा खिल-खिल जायेगी।

7. नींबू या नारंगी के छिलके को बारीक बारीक़ काटकर पानी में भिगो दें। 24 घंटे बाद इस पानी से चेहरा धोएँ। नियमित रूप से ऐसा करने से झाइयों के साथ साथ अन्य दाग़ और धब्बे दूर हो जायेंगे।

8. पुदीना, तुलसी या मेथी के पत्तों को पीसकर उसका रस रात में चेहरे पर लगायें और सुबह चेहरा धो लें।

9. नींबू के रस में ऑलिव ऑयल मिलाकर उसे चेहरे पर लगायें और एक घंटे बाद चेहरा धो लें।

10. खीरे को छील कर कद्दूकस कर लें और उसका रस निचोड़कर चेहरे पर लगायें। आधा घंटे लगाने के बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें।

अगर आपको लगता है कि इनमें से कोई पैक आपको सूट करेगा या नहीं तो पहले इन्हें फ़ेस पर थोड़ा सा लगाकर जाँच लें।

जब झाइयों का उपचार घरेलू नुस्खों से ही हो जाए तो डॉक्टर के पास जाकर बेकार पैसे क्यों खर्च करना!

loading...