नवरात्री में 9 दिन का व्रत प्रायः सभी लोग रखते हैं। मगर कुछ लोग ही सही डाइट को फॉलो करते हैं। नतीजा 2 या 3 दिन बाद तबियत ख़राब होने लगती है और अगर आप ही बीमार हो जायेंगे तो अस्वस्थ मन से माँ की पूजा कैसे करेंगे। अतः आपका व्रत बिना किसी बाधा के पूर्ण हो, इसलिए व्रत के समय खान पान पर विशेष ध्यान दें।
नवरात्र स्पेशल थाली

# व्रत के समय कई परेशानियों से बचने के लिए हल्का फुल्का कुछ ज़रूर लेते रहें। अगर आप खा नहीं सकती तो ताज़ा फलों के जूस अवश्य पियें। आप बीच बीच में नींबू या नारियल पानी भी पी सकती हैं। जिससे आपको एनर्जी मिलती रहेगी।

# व्रत के समय आहार में फाइबर युक्त फल व सब्जियों को शामिल करें।

# अक्सर व्रत रखने वाले भक्त पूरे दिन तो भूखे रहते हैं। पर जैसे ही व्रत खोलने का समय आया वे लोग घी में तली सिंघाड़े या कुट्टू के आटे की बनी पूरिया सेवन करने लगते हैं। जिससे शरीर में फैट बढ़ने लगता है और अगर आप व्रत के समय अपना वज़न नहीं बढ़ाना चाहते हैं तो आप तली पूरिया आदि का सेवन करने के बजाय ताज़े फल व सब्जियों की सलाद खायें। आप सलाद में खीरा, टमाटर और मूली भी ले सकती हैं। इसका नियमित सेवन शरीर के पोषक तत्वों की कमी को पूरा करता रहेगा।

# दही का प्रोटीन गुणकारी होता है। इससे 60 कैलोरी ऊर्जा मिलती है। इसलिए थोड़ा दही खाने से भी पेट भरने लगता है। दही खाने से प्यास भी अधिक नहीं लगती है।

# खाने में सेंधा नमक का इस्तेमाल ज़रूर करें नहीं तो नमक की कमी के कारण आपको परेशानी हो सकती है। जूस और नारियल पानी पर्याप्त मात्रा में पियें।

# पानी ज़्यादा मात्रा में पीना चाहिए ताकि शरीर में उत्पन्न होने वाले टाक्सिन किसी न किसी रूप में हमारे शरीर से बाहर निकल सकें।

# उपवास में ज़्यादा तली हुई चीजों का प्रयोग न करें।

# सीताफल की सब्जी या दही आप खाने में ले सकते हैं।