हम आपके व्रत को स्पेशल बनाने का प्रयास कर रहे हैं। अनेक व्रत स्पेशल डिश आप पकाकर खा चुके हैं। आज आपको सिंघाड़े की पूरी की रेसपी बनाने की विधि बतायेंगे। बहुत से भक्त व्रत में इन पूरियों का सेवन करते हैं। इस रेसपी में हम सिंघाड़े की पूरियों को नरम से नरम बनाने की विधि पर ध्यान आकर्षित करायेंगे। तो आइए सीखिए कि नरम और गरम सिंघाड़े की पूरियाँ कैसे बनायी जाती हैं –

सिंघाड़े की पूरी

सिंघाड़े की पूरी – व्रत रेसपी

आवश्यक सामग्री –

सिंघाड़े का आटा – 250 ग्राम
घुइयाँ उबली हुई – 6
आलू उबली हुई – 2
भुना हुआ जीरा पाउडर – चुटकी भर
सेंधा नमक – स्वादानुसार

पकाने की विधि –

– उबली हुई आलू और घुइयाँ को छील कर अच्छे से मैश कर लें

– फिर इसमें भुना जीरा और नमक मिलायें

– अब इसमें सिंघाड़े का आटा मिलायें और अच्छे से मैश करें, बिना पानी के ही आटा अच्छे से गूँथा जा सकता है

– इसे हाथ की हथेली से अच्छे से मसल कर जितना अधिक गूँथेंगे पूरिया उतनी ही नरम और स्वादिष्ट बनेंगी

– अब कढ़ाही में थोड़ा घी गरम कर लें और इस गूँथे आटे की छोटी-छोटी पूरियाँ बनाकर कढ़ाई में तल लें

– सिंघाड़े की पूरियाँ तैयार हैं इन्हें गरमागरम सर्व करें

ये पूरियाँ खाने में बहुत स्वादिष्ट और नरम होती हैं।

loading...