फ़र्नीचर की सफ़ाई टिप्स

जब घर को ख़ूबसूरत दिखाने की बात हो तो फ़र्नीचर की सफ़ाई को भला कैसे अनदेखा किया जा सकता है। तीज त्योहार या और कुछ ख़ास मौकों के आते ही हर कोई अपने आशियाने की साफ़ सफ़ाई में जुट जाता है। दीवारों के रंगों के साथ साथ लोग घर के फ़र्नीचर की सफ़ाई कर उसे ब्रैंड लुक देने की कोशिश करते हैं। लेकिन हममें से कुछ लोग अक्सर फ़र्नीचर को नया लुक देने में उसकी सूरत बिगाड़ देते हैं। क्योंकि यदि फ़र्नीचर की सफ़ाई सही तरीके से ना की जाए तो वह कुछ ही समय में पुराना लगने लगता है। तो आइये जानें किस तरह से अपने फ़र्नीचर को चमकाएँ ताकि आपका फर्नीचर हमेशा नया सा लगे।

हर तरह के फ़र्नीचर की सफ़ाई है आसान

फ़र्नीचर की सफ़ाई टिप्स

1. लैदर फ़र्नीचर / Leather Furniture

लैदर फ़र्नीचर दिखने में जितना अच्छा लगता है, उसकी देखभाल करना उतना ही कठिन होता है। फ़र्नीचर पर किसी तरह का तरल पदार्थ गिर जाए तो उसे तुरंत साफ केर दें क्योंकि लैदर पर किसी भी चीज़ का दाग़ चढ़ते देर नहीं लगती। यहां तक की पानी की बूंद से भी लैदर पर सफ़ेद निशान पड़ जाते हैं।

फ़र्नीचर को किसी भी तरह के तेल के संपर्क में न आने दें, क्योंकि इससे फ़र्नीचर की चमक भी ख़त्म हो जाती है और उसमें दरारें भी पड़ने लगती हैं। फ़र्नीचर की रोज़ डस्टिंग करें ताकि वह लंबे समय तक चल सके।

2. वुडन फ़र्नीचर / Wooden Furniture

वुडन फ़र्नीचर की साफ़ सफ़ाई में लोग अक्सर लापरवाही करते हैं जिससे वह ख़राब हो जाता है। ध्यान से फ़र्नीचर की सफ़ाई की जाये तो उसमें चमक बनी रहती है। महीने में एक बार नींबू के रस से फ़र्नीचर की सफ़ाई की जाये तो उसमें नई चमक आ जाती है।

वुडन फ़र्नीचर की सफ़ाई

पुराने फ़र्नीचर को आप मिनरल ऑयल से भी पेंट करके नया बना सकती हैं। लकड़ी के फ़र्नीचर में अक्सर वैक्स जम जाता है। जिसे साफ़ करने के लिए सबसे अच्छा विकल्प है कि स्टील के स्क्रबर से रगड़े और मुलायम कपड़े से पोंछ दें।

3. प्लास्टिक फ़र्नीचर / Plastic Furniture

अक्सर देखा गया है कि जब बात प्लास्टिक के फ़र्नीचर को साफ़ करने की आती है तो उसे या तो स्टोर रूम में रख देते हैं या कबाड़ में बेच देते हैं। अगर प्लास्टिक के फ़र्नीचर की सही तरीके से देखभाल की जाये तो उसे भी चमकाया जा सकता है। ब्लीच और पानी बराबर मिला कर एक बोतल में भर लें और फ़र्नीचर पर लगे दाग़ों पर स्प्रे करें और फ़र्नीचर को 5- 10 मिनट के लिए धूप में रख दें।

बर्तन धोने वाला डिटरजेंट भी प्लास्टिक के फ़र्नीचर में लगे दाग़ को छुड़ाने में सहायक होता है। प्लास्टिक पर लगे हल्के दाग़ों को बेकिंग सोडा से भी धोया जा सकता है। इसके लिए स्पंज को बेकिंग सोडा में डिप करके दाग़ वाली जगह पर गोलाई में रगड़ें। दाग़ हल्का हो जायेगा। नॉन जैल टूथपेस्ट से प्लास्टिक फ़र्नीचर पर पड़े स्क्रैच मार्क्स हटाए जा सकते हैं।

4. माइक्रोफाइबर फ़र्नीचर / Microfiber Furniture

माइक्रो फ़ाइबर फ़र्नीचर को साफ़ करने से पहले उस पर लगे देखभाल के नियमों के टैग को देखना बेहद ज़रूरी हैं क्योंकि कुछ टैग्स पर “W” लिखा होता है तो इसका मतलब है कि उसे पानी से साफ़ किया जा सकता है और जिस पर “W” न छपा हो तो उसका मतलब है कि अगर फ़र्नीचर को पानी से धोने पर वह ख़राब हो सकता है।

माइक्रोफ़ाइबर फ़र्नीचर की सफ़ाई

सबसे पहले सॉफ़्ट ब्रश से माइक्रो फ़ाइबर की डस्टिंग करें। इसके बाद ठंडे पानी में साबुन घोलें और तौलिये से फ़र्नीचर की सफ़ाई करें। ध्यान रहे कि तौलिये को अच्छे से निचोड़ कर फ़र्नीचर की सफ़ाई करें ताकि ज़्यादा पानी से फ़र्नीचर गीला न हो। तौलिये  से पोछने के बाद तुरन्त साफ़ किये गए स्थान को हेयर ड्रायर से सुखा दें। सुखाने के बाद उस स्थान पर हल्का ब्रश चलायें ताकि वह पहले जैसी स्थिति में आ जाए।

यदि फ़र्नीचर पर ग्रीस जैसा ज़िद्दी दाग़ लग जाये तो उसे हटाने के लिए बर्तन धोने वाला साबुन और पानी का घोल बनाएँ और दाग़ वाले स्थान पर स्प्रे करें कुछ देर बाद उस स्थान को गीले कपड़े से पोछ दें।