गंजापन दूर करके बाल उगाने के उपाय

शरीर के अन्य भागों की तरह बाल भी हमारा व्यक्ति निखारते हैं। आज युवाओं में समय से पहले बाल झड़ने और टूटनी समस्या बहुत अधिक देखने को मिलती है। कई बार हम अपनी रोज़मर्रा की ज़िंदगी में इतना व्यस्त रहते हैं कि बाल झड़ने पर ध्यान ही नहीं दे पाते हैं। आगे चलकर यह समस्या गंजापन बन जाती है। आज पुरुषों और महिलाओं में यह गंजेपन की समस्या बढ़ रही है। आइए गंजापन दूर करके बाल उगाने के उपाय जानते हैं।
bal jadhana hair loss

बाल झड़ने के कारण

– लम्बे समय तक बाल गंदे रहना, उनकी सफ़ाई न होना
– बालों पर रंग और डाई का प्रयोग
– नियमित बालों पर साबुन या शैंपू का प्रयोग
– दवा का दुष्प्रभाव
– बालों की कमज़ोर जड़ें
– हार्मोन में असंतुलन
– विटामिन की कमी
– कीमोथैरेपी के कारण
– सिर की त्वचा में रक्त संचार की कमी
– मानसिक और शारीरिक तनाव
– प्रदूषण
बालों में रूसी होना
– दाद, एग्ज़िमा और सिर पर सफेद दाग़ होने से
यह सब बाल झड़ने की मुख्य वजहें हैं। जिससे गंजापन आने लगता है। लेख में आगे गंजेपन के लक्षण और नए बाल उगाने के बारे जानकारी लेंगे।

गंजेपन के लक्षण

अस्त-व्यस्त जीवन शैली में खानपान भी अनियमित हो गया है, और इससे आदमी और औरतों को गंजेपन की शिक़ायत हो रही है। स्वस्थ व्यक्ति के भी दिन में 100 तक बाल टूट सकते हैं लेकिन अगर बात इससे आगे की है तो यह गंजेपन का लक्षण है। बाल ज़्यादा टूटें और नए उगने वाले बाल कमज़ोर हों, यह भी गंजेपन की निशानी है।

गंजेपन का इलाज वैज्ञानिक विधि से

सिर गंजा हो जाए तो हम उम्रदराज़ लगने लगते हैं। आज कल ऐसी वैज्ञानिक विधियां हैं जिनकी वजह से बालों के झड़ने की समस्या का उपचार किया जाता है। हेयर ट्रांसप्लांटेशन, स्टेम सेल टेक्निक, लेज़र ट्रीटमेंट और हेयर वेइंग कुछ उदाहरण हैं। गंजापन दूर करने के अन्य उपायों से यह विधियां महंगी होती हैं, जिस वजह से बहुत कम लोग इसका लाभ ले पाते हैं।
बीते सालों में हुए शोध से पता चला है कि गंजापन दूर करने के लिए जीन्स आधारित थेरेपी की जा सकती है। जिससे बालों को झड़ने और टूटने से रोका जा सकता है। इस थेरेपी में उस प्रोटीन की गतिविधि को बढ़ाया जाता है जो बालों के उगने के लिए ज़िम्मेदार है और उन्हें लंबा करता है।
वैज्ञानिक दावा करते हैं कि गंजापन कोई स्थाई समस्या नहीं है। एक बार कोई गंजा हो जाए तो उसका गंजापन दूर किया जा सकता है। उनके अनुसार बाल गिरने की समस्या सिर में मौजूद कोशिकाओं के ख़राब होने से प्रारंभ होती है।

गंजापन दूर करने के उपाय

अधिकतर गंजापन पुरुषों में देखने को मिलता है। जिसके लिए हार्मोंस असंतुलन ज़िम्मेदार है। इस आलेख में आपको गंजापन दूर करने के लिए आयुर्वेदिक और घरेलू नुस्खे बताए जा रहे हैं। गंजेपन की समस्या होने से पहले भी आप इन उपायों को करके बाल मजबूत बना सकते हैं।
गंजापन दूर करना

१. प्याज

सिर के जिस हिस्से के बाल गिर गए हैं, उस पर 1 प्याज को आधा काटकर 5 मिनट तक रगड़ें। आप उस जगह प्याज का रस निकालकर मालिश कर सकते हैं। इस उपाय से नए बाल उगते हैं और बालों का झड़ना भी कम होता है।

२. मेथी और दही

एक रात पानी में भीगी मेथी को दही के साथ पीसकर लेप बनायें। नहाने से एक घंटा पहले इस लेप को बालों की जड़ों पर लगायें। इस उपाय से सिर की त्वचा को नमी मिलती है, रूसी ख़त्म होती है और बालों की जड़ें मजबूत होती हैं। मेथी में निकोटिनिक एसिड और प्रोटीन बालों की जड़ों पोषण देकर लंबा बनाता है।

३. हरी धनिया का लेप

सिर के जिस हिस्से के बाल गिर गए हैं वहां हरी धनिया पीसकर 1 महीने तक लगाने से बाल उगने शुरु हो जाएंगे।

४. मुलेठी और केसर

पिसी मुलेठी को दूध और केसर में मिलाकर लेप बनायें। इसे रात को सोने से पहले बालों की जड़ तक लगाना है। सुबह बालों को रीठा-शिकाकाई से धो लें। नियमित इस उपाय को करने से गंजापन दूर हो जाएगा।

५. उरद दाल का लेप

बिना छिलके वाली उड़द दाल को उबालकर पीस लें। इसे रात को सोने से पहले बालों में जड़ तक लगाएं। यह उपाय झड़े हुए बाल उगाने में कारगर है। इससे गंजापन कम होता है।

६. केला और नींबू

एक केले के गूदे को नींबू के रस के साथ अच्छे से मैश कर लें। इसे सिर पर लगाने से बाल झ‌ड़ने की समस्या कम होगी और नए बाल उगने शुरु हो जाएंगे।

७. तेल मालिश

नियमित हर दूसरे दिन नारियल तेल, बादाम तेल, जैतून तेल या फिर आंवले के तेल से सिर की मालिश करने से बाल नहीं झड़ते हैं। तेल को लगाने से पहले हल्का गरम कर लें तो लाभ अधिक हो जाता है।

८. नीम और आंवला

पानी में नीम की पत्तियों और आंवले का चूर्ण डालकर उबालें। इस पानी से सप्ताह में कम से कम 2 बार सिर को धोएं।

९. आंवला और नींबू

आंवले के गूदे में नींबू का रस मिलाकर रात को सोने से पहले सिर पर अच्छी तरह से मालिश करें। सुबह रीठा-शिकाकाई लगाकर धो लें।

अन्य उपाय

१०. 5 चम्मच नारियल तेल में 1-1 चम्मच पिसा नमक और काली मिर्च मिलाकर गंजेपन वाली जगह पर लगाने से बाल जल्दी उगने लगते हैं।
११. नीम का तेल लगाने बालों की जड़ें मजबूत होती हैं। जिससे बाल नहीं झड़ते हैं।
१२. पिसी कलौंजी को पानी में मिलाकर सिर धोने से बालों का झड़ना रुक जाता है। इस उपाय से नए बाल भी निकलने लगते हैं।
१३. यदि गंजेपन की समस्या अनुवांशिक है तो भोजन में लहसुन का प्रयोग अवश्य करें। जितना कर रहे हैं उससे थोड़ा बढ़ा दें।
१४. अगर सिर के बाल जगह जगह पैच की तरह झड़ रहे हैं तो आपको उन जगहों पर नींबू रगड़ने से लाभ मिलेगा। झड़े हुए बाल दुबारा आने लगेंगे।

Previous articleलकवे का इलाज सात परिक्रमा से
Next articleपीले दांत सफेद करने के उपाय