नवजात शिशु को जन्मदेते समय एक माँ को बहुत अधिक ख़ुशी होती है। लेकिन अगर किसी भी कारणवश कोई गर्भवती माँ प्रसव के समय तनाव, डीहाइड्रेशन, अनिद्रा आदि की शिकार हो जाए तो प्रसव के बाद उनके स्तनों में कम दूध बन सकता है। जिससे उनका बच्चा भूखा रह सकता है। जबकि माँ का दूध बच्चे के स्वास्थ्य के लिए सबसे ज़्यादा ज़रूरी होता है। अतः ऐसे में माँ को अपने आहार पर उचित ध्यान देना चाहिए और अपने भोजन में उन सभी चीज़ों को शामिल करना चाहिए जो एक माँ का दूध बढ़ाने में सहायक हो। अतः आज हम आपको ऐसे ही कुछ प्राकृतिक चीज़ों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके सेवन से ब्रेस्ट फ़ीडिंग कराने वाली स्त्री का दूध बढ़ जाता है।

माँ का दूध बढ़ाने के तरीके
Breast Feeding; Stanpan

माँ का दूध बढ़ाने के प्राकृतिक उपाय

स्तनपान कराते समय स्तन को बदलें

जब भी माँ बच्चे को स्तनपान कराए तो दोनों स्तनों से दूध पिलाए। इससे आपका बच्चा आराम से स्तनपान कर सकेगा। इससे माँ के शरीर में दूध का उत्पादन अच्छे से होगा। इसीलिए स्तनपान कराते समय कम से कम दो से तीन बार स्तन ज़रूर बदलें।

मेथी खाएं

अगर प्रसव के बाद माँ के शरीर में दूध कम बन रहा हो या न बन रहा हो तो घर की बड़ी बुजुर्ग उसे मेथी के बीज खाने की सलाह देते हैं। इसके सेवन भी माँ का दूध बढ़ाने में सहायक होता है। ध्यान रहें इसका सेवन कम मात्रा में करना है। अधिक मात्रा से गैस की समस्या हो सकती है।

दूध और दूध से बने पदार्थ

जो चीज़ दूध से बनती है जैसे पनीर, दही, खोया आदि उसे खाएं और दूध पिएं। दूध पीने से भी स्तनों में दूध बढ़ने लगता है। यह शरीर को ताकत भी प्रदान करता हैं।

संतुलित भोजन

स्तनपान कराने वाली माँ को हमेशा संतुलित आहार से युक्त चीज़ों का जैसे दूध, दही, पनीर, हरी सब्जियां, दाल, अंकुरित दाना, गुण आदि का सेवन करना चाहिए। माँ का दूध बढ़ाने के लिए शरीर को अच्छे खानपान की आवश्यकता होती है।

तनाव कम करें

स्तनपान करने वाली माँ को अधिक तनाव करने से बचना चाहिए। अधिक तनाव से ऑक्सीटोसिन के उत्पादन में रुकावट पैदा होती है। यह ऑक्सीटोसिन ही वह हार्मोन है, जो दूध का उत्पादन बढ़ाने में सहायक होता है। इसलिए तनाव से बचें और हमेशा ख़ुश रहें।

स्तनपान; ब्रेस्ट फ़ीडिंग
Stanpan; Breast Feeding

Breast Feeding Tips In Hindi

जई का दलिया

जई की दलिया कई पौष्टिक तत्वों से परिपूर्ण होती है। अतः स्तनपान कराने वाली माँ जई की दलिया का सेवन करना चाहिए। जई की दलिया खाने से उनके दूध की मात्रा में वृद्धि होती है।

तुलसी

तुलसी में विटामिन K पाया जाता है। जिस कारण से अगर स्तनपान कराने वाली माँ इसका सेवन सूप बनाकर या शहद के साथ या चाय में करती है तो इसके सेवन से भी ब्रेस्‍ट में मिल्‍क बढ़ता है।

करेला

करेला विटामिन और मिनरल एक अच्‍छा स्रोत है। माँ का दूध बढ़ाने के लिए इसका सेवन हर प्रकार से करना अच्छा है। इसलिए आप चाहें तो करेले का जूस या करेला की सब्ज़ी भी बनाकर खा सकती हैं।

लहसुन

लहसुन की तासीर गरम होती है। कच्चा लहसुन या भोजन में पकाकर के भी खाना चाहिए। इसको खाने से भी माँ का दूध उतरने लगता है।

सूखे मेवा

स्तनपान कराने वाली महिला को विटामिन मिनरल और प्रोटीन से भरपूर चीज़ों का जैसे सूखे मेवा का सेवन करना चाहिए। इनके सेवन से भी माँ के स्तनों में दूध बढ़ता है।

Keywords – Breast feeding tips, Increase breast milk naturally, Stanpan

loading...