प्लेटलेट्स की संख्या बढ़ाने के घरेलू उपाय

एक दिन मैं और मेरा मित्र राज दोनों खेल रहे थे। खेलते खेलते अचानक वो गिर गया एक पत्थर से टकरा गया जिस कारण उसके घुटने से लगातार ख़ून बहने लगा। वहां पर आस पास के लोगों ने प्राथमिक चिकित्सा के द्वारा ख़ून रोकने की बहुत कोशिश की लेकिन ख़ून रुकने का नाम ही नहीं ले रहा था। तभी तुरन्त कुछ लोग उसे उठाकर डॉक्टर के पास ले गए और डॉक्टर से कहा कि डॉक्टर साहब ये बच्चा खेलते खेलते गिर गया, इसे चोट लग गई और ख़ून बहना नहीं रुक रहा है। तभी डॉक्टर ने दवाई देकर यह बताया कि इस बच्चे के शरीर में प्लेटलेट्स की कमी होने के कारण रक्त का थक्का बनने में रुकावट आ रही थी। जिनका मानव शरीर में बहुत अधिक महत्व है और इनकी कमी की जानकारी होने पर तुरन्त ऐसे उपाय अपनाने चाहिए, जिससे इन प्लेटलेट्स की संख्या में वृद्धि हो।
प्लेटलेट्स की संख्या

प्लेटलेट्स और उनका महत्व

Platelets & Its Importance

प्लेटलेट्स छोटी प्लेट के आकार की कोशिकीय रचना होती हैं जिनका सम्बंध रक्त का थक्का बनाने, घाव भरने और अन्य आवश्यक शारीरिक क्रियाओं में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने से है। सामान्यतः एक स्वस्थ व्यक्ति के शरीर में 1.5 लाख से 4.5 लाख तक प्लेटलेट्स होते हैं और रोज़ हमारे शरीर में हज़ारों प्लेटलेट पेशी के टूटने और निर्माण होने की प्रक्रिया सामान्यतः चलती रहती है। लेकिन जब किसी व्यक्ति के शरीर में प्लेटलेट्स की संख्या बहुत कम हो जाती है तो रोगी को किसी भी प्रकार का घाव हो जाने पर रक्तस्त्राव शुरू हो जाता है और रक्त का थक्का बनने में रुकावट आती है और इस कारण से कभी कभी रोगी को अपने जान भी गवानी पड़ती है। इसीलिए ऐसे रोगी को अपने भोजन में कीवी, पपीता, ओमेगा 3 फैटी एसिड, विटामिन सी और विटामिन के को अवश्य शामिल करना चाहिए।

प्लेटलेट्स की संख्या बढ़ाने के घरेलू तरीके

Increase Platelets in Blood Naturally

1. पपीता । Papaya

शरीर में कम हुई प्लेटलेट्स की संख्या बढ़ाने के लिए पपीते का फल और इसके पत्तों का उपयोग एक उत्तम उपाय है। इसके लिए पपीते के पत्तों का रस आप अपनी क्षमतानुसार थोड़ा थोड़ा पिएँ और पके हुए पपीते को खाए। इसको खाने से ज़बरदस्त असर दिखाई देता है।

2. चुकंदर । Beetroot

रोगी के शरीर में प्राकृतिक तरीके से प्लेटलेट्स की संख्या बढ़ाने का एक सरल उपाय चुकंदर है। क्योंकि इसमें प्रचुर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट नामक तत्व पाया जाता है जो शरीर को रोगों से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है इसके अलावा चुकन्दर खाने से या इसका जूस पीने से हीमोग्लोबिन और प्लेटलेट की संख्या बढ़ाने में भी सहायता मिलती हैं।

3. कद्दू । Pumpkin

जिस रोगी के शरीर में प्लेटलेट्स की संख्या कम हो उनको कद्दू की सब्ज़ी बनाकर खिलाएँ, क्योंकि कद्दू में प्रचुर मात्रा में विटामिन K पाया जाता हैं जो रक्त का थक्का बनाने में सहायक होते हैं।

4. गिलोय । Tinosporia Cordifolia

गिलोय या गुडूची एक आयुर्वेदिक औषधि है। जो शरीर में प्लेटलेट्स की मात्रा को बढ़ाने में सहायक है। इसके लिए गिलोय में अनार का जूस मिक्स करके पीने से बेहतर परिणाम नज़र आते हैं।

5. अनार । Pomegranate

कहा जाता है – अनार खाएँ शरीर में ख़ून बढ़ाए, क्योंकि अनार में लौह तत्व या आयरन प्रचुर मात्रा पाया जाता है जो हीमोग्लोबिन और प्लेटलेट्स की मात्रा को बढ़ाने में सहायक हैं। इसलिए ख़ूब सारे अनार के दाने खाए और अनार का जूस पिएँ।

6. ओमेगा 3 फैटी एसिड

ओमेगा 3 फैटी एसिड शरीर के लिए बहुत ज़रूरी होता है यह शरीर को रोगों से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है और प्लेटलेट्स की संख्या बढ़ाने में भी मदद करता हैं। इसके लिए आप अपने आहार में पालक, अखरोट, अलसी जैसे पदार्थों को अवश्य शामिल करें।
जब भी किसी व्यक्ति के शरीर में प्लेटलेट्स की संख्या कम हो तो ऐसे रोगी को कच्चा, तीखा और मसालेदार आहार नहीं करना चाहिए। इसके अलावा रोगी को चाय, कॉफी, शराब और धूम्रपान से भी बचना चाहिए। साथ ही समय समय पर चिकित्सक से परामर्श भी अवश्य लेना चाहिए।

Previous articleहर्बल फेस पैक बनाने की विधि
Next articleबेबी कॉर्न मसाला ग्रेवी