थायरॉइड एक जटिल रोग है। इसके लक्षण ज्ञात होने पर उपचार कराना बेहद ज़रूरी है। क्योंकि इसके लक्षण एक साथ नज़र नहीं आते, इसलिए इसको साइलेंट किलर भी कहते हैं। अगर सही समय पर इसका इलाज न हो तो थायरॉइड के रोगी की मौत भी हो सकती है। हमारे शरीर में यह ग्रंथि बेहद छोटी होती है, लेकिन शरीर को स्‍वस्‍थ्‍य रखने के लिए यह बेहद ज़रूरी भी है।

थायरॉइड एक प्रकार की एंडोक्राइन ग्रंथि है, जो हमारे शरीर में कुछ हार्मोन के स्राव के लिए जिम्‍मेदार होती है। यदि थायरॉइड ग्रंथि अच्‍छे से कार्य न करें या फिर कम या अधिक सक्रिय हो जाए तो ये हमारे शरीर को बेहद प्रभावित करती है।

थायरॉइड के रोगी के लिए सलाद

बदलता खानपान और हमारा रहन सहन हमारे शरीर को बेहद प्रभावित करता है। जिससे हम कई रोगों के शिकार हो जाते हैं। उनमें से एक थायरॉइड की समस्या भी है। अगर शुरूआत से ही खान पान पर ध्‍यान दिया जाए तो थायरॉइड व इस जैसी अन्य समस्याओं से भी बच सकते हैं। तो आइए जानते है कि थायरॉइड की समस्या होने पर इसके मरीज़ किस तरह का आहार ग्रहण करें जिससे वो थायरॉइड रोग से बच सके और स्वस्थ रहे।

थायरॉइड के रोगी क्या खाएँ?

थायरॉइड रोग होने पर मरीज़ को उन पदार्थों का सेवन करना चाहिए जिसे खाने से उसके शरीर के लिए सही पोषक तत्व प्राप्त हों और उसके इलाज में भी फ़ायदा हो।

1. आयोडीन युक्त भोजन

थायरॉइड के रोगी के लिए सी फ़ूड

रोगी को उन पदार्थों का सेवन करना चाहिए जिसमें आयोडीन की मात्रा भरपूर हो। क्‍योंकि इसकी मात्रा थायरॉइड फ़ंक्शन को प्रभावित करती है। समुद्री शैवाल, समुद्र की सब्ज़ियों और मछलियों में आयोडीन की मात्रा भरपूर होती है। इसलिए इनका उचित मात्रा में सेवन करें।

2. कॉपर व आयरन मिनिरल्स वाला भोजन

कॉपर और आयरन युक्‍त आहार का सेवन करें क्योंकि यह भी थायरॉइड फंक्‍शन को प्रभावित करती है। कॉपर की सबसे ज़्यादा मात्रा काजू, बादाम और सूरजमुखी के बीज में होती है और हरे पत्‍तेदार सब्ज़ियों में आयरन भरपूर मात्रा में होता है।

थायरॉइड के रोगी का भोजन

3. विटामिन और मिनरल्स वाला भोजन

विटामिन और मिनरल्‍स युक्‍त भोजन का सेवन करें। यह थायरॉइड के रोगी के लिए लाभप्रद है। पनीर, हरीमिर्च, टमाटर, प्‍याज, लहसुन, मशरूम का अधिक मात्रा में सेवन करें।

4. कम वसा युक्त भोजन

कम वसा युक्‍त आहार का सेवन करें, जैसे – आइसक्रीम और दही। इसके साथ साथ गाय का दूध भी थायरॉइड के रोगी के लिए पीना लाभप्रद है। ये लोग भोजन बनाते समय नारियल तेल का प्रयोग करें। ये इन मरीज़ों के लिए स्वास्थ्यप्रद होता है।

थायरॉइड के रोगी क्या न खाएँ?

1. सोया और उससे बने खाद्य-पदार्थों के सेवन से बचें।

2. जंक और फ़ास्ट फ़ूड खाद्य पदार्थों का सेवन कम से कम करें।

3. ब्रॉक्ली, गोभी जैसे खाद्य पदार्थों के सेवन से बचें।

थायरॉइड के मरीज़ों को उचित आहार के साथ साथ नियमित रूप से योग और व्यायाम करना भी बेहद ज़रूरी है। थायरॉइड की समस्‍या होने पर रोगी को चिकित्‍सक की सलाह अवश्य लेनी चाहिए।