सिरका कई चीज़ों के रस से जैसे अंगूर का रस, सेब का रस, संतरे का रस, अनन्नास का रस, जामुन का रस, गन्ने का रस, गुड़ का रस तथा अन्य फलों के रस से तैयार किया जाता है। आयुर्वेद में सिरके के औषधीय प्रयोग बताए गए हैं। इसके अलावा सिरके का उपयोग बालों को सुंदर बनाने, रूसी और जूं जैसी समस्याओं से बचने के लिए भी किया जाता है। सिरके का इस्तेमाल बालों के कंडीशनर के रूप में तथा रूखे और घुंघराले बालों को सीधा करने के लिए भी किया जाता है। तो सिरके का प्रयोग न केवल स्वास्थ्य बल्कि सौन्दर्य निखारने के लिए भी किया जाता है। आइए सिरके के उपयोग और लाभ को जानें।

सिरके के औषधीय प्रयोग
Angoor ka sirka

सिरके के औषधीय प्रयोग

1. अगर आप जोड़ों के दर्द, हाई ब्लड प्रेशर, कोलेस्ट्रॉल की बढ़ी हुई मात्रा, सर्दी ज़ुकाम, बदहज़मी, सिरदर्द, बवासीर, बांझपन, नपुसंकता, दांत दर्द, मोटापा, अल्सर जैसी बीमारियों से परेशान है तो इन्हें ठीक करने के लिए दादी माँ के द्वारा बताया गया सिरके का ये औषधीय प्रयोग ज़रूर अपनाएं।

प्रयोग: 100 ग्राम सेब के सिरके में, 100 ग्राम शहद और छिले हुए लहसुन की 6 गांठ को मिलाकर मिक्सर जार में पेस्ट बना लें। फिर इस मिश्रण को एक काँच की बोतल में डाल कर पाँच दिन के लिए फ्रिज में बंद करके रख दें। फिर दो चम्मच पानी या अंगूर या फलों के रस में डालकर सेवन करें इससे ज़बरदस्त लाभ नज़र आएगा।

2. अगर आप हृदय रोग या बढ़े हुए हाई कोलेस्ट्रॉल की समस्या से परेशान है तो दादी माँ के इस नुस्खे को एक बार ज़रूर अपनाएं। इससे बेहद लाभ प्राप्त होगा।

प्रयोग: सेब का सिरका 50 ग्राम, अदरक का रस 50 ग्राम, लहसून का रस 50 ग्राम, नींबू का रस 50 ग्राम, इन चारों सामग्रियों को आपस में मिलाकर मध्यम आंच पर पकाए और जब यह पककर आधा रह जाए, तब इसे आंच से उतारकर ठंडा कर लें। फिर इसमें 150 ग्राम शहद मिलाकर, किसी भी बोतल में भर कर रख लें।

1 गिलास पानी में 2 चम्मच इस मिश्रण के रस को मिलाएं और सुबह सुबह खाली पेट सेवन करने से स्वास्थ्य लाभ मिलेगा।

सिरके के स्वास्थ्य लाभ

सिरके के औषधीय प्रयोग से निम्न स्वास्थ्य लाभ होते हैं:

– सिरके के उपयोग से एक्स्ट्रा फैट कम होता है। इसके अलावा सिरका शरीर से विषैले पदार्थों को निकालने में भी सहायक है।

– अगर किसी ने धतूरा खा लिया हो, तो उसके असर को कम करने के लिए अंगूर के सिरके में दूध मिलाकर पिलाने से लाभ मिलेगा।

– एसीडिटी की समस्या से निजात पाने के लिए एक गिलास पानी में 1 चम्मच सेब का सिरका तथा 1 चम्मच शहद मिलाकर पीने से पेट की अम्लता से छुटकारा मिलता है।

– अगर किसी को पाचनतंत्र से जुड़ी समस्या, कब्ज़ तथा दस्त से जुड़ी समस्या हो तो सलाद या पानी में थोड़ा सिरका डालकर उपयोग करने से पाचनतंत्र ठीक रहता है।

ज़रूरी टिप्स

– चिकित्सकों के अनुसार कमज़ोर स्नायुतंत्र, गठिया और अल्सर के रोगियों को सिरके का सेवन करने से बचना चाहिए।