ये लव है या फिर सज़ा, कोई बताये

हेलो मेरा नाम अर्चना है, मैं आपको अपनी स्टोरी बताना चाहती हूँ। जब मैं बीए पार्ट 1 में थी तब एक लड़के से मेरी मुलाक़ात हुई, उसका नाम मोहित था। वो हर दिन मेरे ट्यूशन सेंटर के पास आने लगा, कभी कभी वो मेरे घर के पास भी आ जाता क्योंकि मेरे भाई और उसके दोस्त एक ही थे। इसलिए किसी तरह उसे मेरा नम्बर मिल गया और उसने मुझे काल करना शुरु कर दिया, वो मुझसे हर दिन काल करके बात करता था। उसकी तरफ़ से ये लव का चक्कर था, जिसने मुझे बड़ा परेशान किया। पर मैं कंफ़्यूज़ हूँ, मेरी कहनी पढ़िए और आप ही कुछ बताइए।

ये लव है या फिर सज़ा…

वो मुझे हमेशा काल करके बोलता था कि “अगर तुम मुझसे बात नहीं करोगी और मेरी मैसेज का जवाब नहीं दोगी तो मैं तुम्हारे ट्यूशन क्लास के पास रोज़ आऊंगा”; इसी वजह से मैं उससे बात करने लगी। एक दिन मेरे भाई को ये लव का चक्कर पता चल गया और उसने मोहित के घर जाकर उसकी बहुत इंसल्ट करी, यहाँ तक कि उसने उसे मारा भी। कुछ लोग मुझे ग़लत समझते थे तो कुछ मोहित को। ये सब होने के बाद उसने मुझे फ़ोन करना बंद कर दिया लेकिन उसने मेरा पीछा करना बंद नहीं किया, मैं जहाँ भी जाती वह वहाँ आ जाता। वो बस किसी न किसी बहाने से मेरे टच में रहना चाहता था।

ये लव है या फिर सज़ा - teen girl using phone

कुछ दिन बाद वो मुझे अलग अलग नम्बर से काल करता और मेरी आवाज़ सुनकर काल काट देता। इस तरह महीने बिताते गए और जब पुरानी बातें धुंधली हो गयीं तो उसने मुझे फ़ोन करके कहा कि वो मुझे बहुत पसंद करता है। मैंने उसे जवाब दिया कि – ‘देखो इन सब बातों का कोई मतलब नहीं है’। और उन दिनों मैं एक लड़के के साथ रिलेशन में थी। मैं जब भी उससे यह बात बताती तो वह मुझपे बहुत ग़ुस्सा करता, बातें सुनाता और डाँटता भी। वह कहता कि मेरे अलावा तुम किसी और की नहीं हो सकती।

धीरे धीरे मोहित मुझे फिर पहले की तरह रोज़ काल करने लगा, मैं बहुत मना करती लेकिन वो मेरी एक नहीं सुनता। मैं उससे हमेशा कहती कि भाई को पता चला जाएगा मैं आपसे बात नहीं करना चाहती, फिर भी उसे कोई फ़र्क नहीं पड़ता। मोहित बहुत एटीट्यूड और ग़ुस्से वाला लड़का है। ग़ुस्सा तो जैसे उसके ख़ून में है। जब भी मैं उससे बात करना बंद कर देती तो वह ड्रिंक करना शुरु कर देता। मोहित पहले नहीं पीता था, लेकिन जबसे मेरे चक्कर में पड़ा है तब से ग़म में पीने लगा है। वह कहता है कि तुमने मुझे बरबाद किया है, मैं भी तुम्हें बरबाद करूँगा।

लेकिन आपको एक बात बता दूँ कि जब मैं उसके डाँटने से रोने लगती तो वह मुझसे नार्मल बात करने लगता और मुझे बहुत प्यार से मनाता। मेरी हर बात पूरे ध्यान से सुनता। लेकिन जब मैं उससे कहती कि मेरी पसंद कोई और है तो वह बहुत नाराज़ हो जाते, मुझपर चीखने लगता। कभी कभी मुझे उससे बहुत डर लगता था कि कहीं वो सच में तो अपनी बरबादी का मुझसे बदला तो नहीं लेने वाला है, इसीलिए उसका ये लव मुझे समझ नहीं आता था। मुझे उनकी एक गर्लफ़्रेंड के बारे में भी पता है, वो अक्सर उसे मेरा बारे में बात करते हैं और कहते हैं कि मैं अर्चना के बिना नहीं जी पाऊंगा, तुम अगर चाहो तो मुझे छो‌ड़कर चली जाओ मैं सिर्फ़ अर्चना से ही प्यार करूंगा। जब उसकी गर्लफ़्रेंड इस बात से नाराज़ हो जाती तो वो मुझे फ़ोन करके मुझे बता देता।

कभी कभी तो मुझसे कहता है वो मुझसे बेइंतहा नफ़रत करता है, भला मुझ जैसी लड़की से कौन प्यार करेगा। मगर जब मैं अपनी लाइफ़ में मस्त हो जाती हूँ तो वो मुझे परेशान करने फिर चला आता है। मुझे बोलता है, कि देर रात तक व्हाट्सएप नहीं चलाओगी, फ़ेसबुक नहीं करोगी और किसी दूसरे लड़के बात भी नहीं करोगी, मानो मैं उसकी अमानत हूँ।

वो ख़ुद न जाने कितनी लड़कियों से बात करता है, और मुझे ये सब करने के लिए मना करता है। जब मेरे डैड गुज़र गए तो वह मेरे घर भी आया था, उसे इस बात की फ़िक्र नहीं थी कि मेरा भाई उसके साथ क्या करेगा। उसे मेरी आंख में एक आंसू न देखा जाता और दूसरे ही पल वो मुझे इतना बेइज़्ज़त करता जैसे मैंने उसका बहुत बुरा किया हो।

अब चार साल बीत चुके हैं, हम दोनों के बीच वही सिलसिला अब भी चल रहा है। हम दोनों में पहले की तरह झगड़ा होता है और महीने महीने भर बात बंद रहती है लेकिन फिर वो मुझे फ़ोन कर लेता है। पिछले चार सालों में मैंने मोहित को कभी काल नहीं की, लेकिन वह फिर भी मुझे काल करता है।

मैं आज भी कंफ़्यूज़ हूँ कि हम दोनों के बीच ये कैसा रिश्ता है? ये लव है, दोस्ती है, नफ़रत या फिर वो मुझसे बदला ले रहा है।

दोस्तो ये थी अपनी अर्चना कि स्टोरी जो किसी टिपिकल बॉलीवुड फ़िल्म से कम नहीं है। आपने ये स्टोरी पढ़ी, उम्मीद है कि आप अर्चना की सिचुएशन समझ गए होंगे। अगर अब आपको अर्चना से कुछ कहना है, उसे कोई सजेशन देना है वो कमेंट के ज़रिए आप उस तक अपनी बात पहुंचा सकते हैं। गुड बॉय!

Keywords – ये प्यार, ये इश्क़, ये मोहब्बत, ye love, ye pyar, ye ishq, ye mohbbat, Love story, True Love Story, Complicated Love Story