कमर दर्द के लिए 3 योगासन

    बदली हुई जीवनशैली के कारण कमर दर्द आज के समय में लोगों की आम समस्या बन गई है। आज कल शहरी जीवनचर्या में अधिक देर बैठकर करने से या कभी कभार भारी सामान उठाने से कमर दर्द हो जाता है। सुबह उठकर अख़बार पढ़ने के लिए बैठना, ऑफ़िस जाते समय कार या बाइक पर बैठना, उसके बाद ऑफ़िस पहुँचते ही काम करने के लिए कुर्सी पर बैठना, लंच ऑवर्स में बैठकर टिफ़िन करना, दुबार फिर कुर्सी पर ही बैठना। घर आते समय फिर कार या बाइक पर बैठना, फिर घर आते ही टीवी देखने के लिए बैठने और डायनिंग टेबल पर बैठना।

    कमर दर्द के लिए योग - Yoga exercise for back pain

    इस तरह लगातार दिनभर बैठे रहने दिनचर्या हमारी कमर के निचले भाग की माँसपेशियाँ धीरे धीरे कमज़ोर पड़ने लगती हैं या फिर ऐंठ जाती हैं। शहरी जीवनशैली में अब यही दिनचर्या बन गयी है, इसके साथ ही साथ कमर दर्द की शिक़ायत भी दैनिक दिनचर्या का अंग बन जाते हैं।

    इस कमर दर्द की शिकायत से निजात पाने के लिए आज हम आपको ऐसे योगासन बताने जा रहे हैं जो कि कमर की मांसपेशियों को सुदृढ़ और लचीला बनाकर कमर दर्द से छुटकारा दिलायेंगे।

    कमर दर्द के लिए योगासन

    1. सुप्ता पदंगुस्तासन । Reclining Big Toe Pose

    Supta Padangusthasana Supine Hand To Toe Pose

    आसन करने की विधि –

    1. एक मोटी दरी बिछाकर अब पीठ के बल लेट जायें
    2. पैर बिलकुल सीधे रखें
    3. थोड़ी देर इस स्थिति में रुके और गहरी लम्बी साँस लें
    4. शरीर को पूरी तरह ढीला छोड़ दें
    5. अब बाएं घुटने को मोडें और पेट के पास लायें
    6. थोड़ी देर रुकें, अब घुटने को सीधा करें
    7. आपका पैर ऊपर की तरफ़ सीधा रहेगा
    8. पैर का तालू ऊपर की तरफ़ बिलकुल सीधा रहेगा
    9. प्रारम्भ में जब आपकी मांसपेशियाँ जकड़ी हुई हैं, तब आप पैर पूरी तरह सीधा नहीं कर पायेंगे। इसके लिए एक दुपट्टे या बेल्ट का प्रयोग करें।
    10. अब यही प्रक्रिया दूसरे पैर के साथ करें।

    नोट: इस आसन को धीरे धीरे करना है, शरीर को अतिरिक्त कष्ट नहीं देना है। यदि दर्द होने लगे तो रुक जाएँ।

    यह आसन करने से आपकी कमर के निचले भाग और कूल्हे की मांसपेशियाँ लचीली बनती हैं और अकड़न भी कम हो जाती है।

    2. सुप्ता मत्स्येन्द्रास । Knee Down Twist Pose

    Yoga Reclined SupineTwist Pose

    आसन को करने की विधि –

    1. पीठ के बल लेट जाएँ
    2. T के आकार में दोनों हाथों को बाहर खोलें
    3. हथेलियों को भूमि की ओर रखें
    4. अब बायाँ घुटना इस तरह मोड़े कि पैर से त्रिकोण बन जाए
    5. अब इसी मुड़ी हुई अवस्था में बायें घुटने को दायीं ओर झुका लें, जितना हो सके उतना झुकते जाएँ
    6. ज़रूरत पड़ने पर दायें हाथ से बायें घुटने पर दबाव भी डाल सकते हैं, ताकि वह नीचे जाए
    7. जिस तरफ़ पैर मोड़ें अपना चेहरा उसकी विपरीत दिशा में रखें
    8. इसी स्थिति में शरीर को पूरी तरह ढीला छोड़ दें
    9. मांसपेशियों को ढीला होता हुआ महसूस करें और गहरी लम्बी साँस लें
    10. अब यही प्रक्रिया दूसरे पैर के साथ भी करें

    3. सलम्बा भुजंगासन । Sphinx Pose

    Yoga Sphinx Pose

    आसन करने की विधि –

    1. पेट के बल लेट जाएँ, दोनों पैरों को सटा कर रख लें
    2. पैर के पंजों को इस तरह रखें कि नाखून भूमि की तरफ हों
    3. इस स्थिति में कमर, कूल्हे और पैर की मांसपेशियाँ लम्बी हो जाएँगी और आपको थोड़ी कसावट महसूस होगी
    4. कुहनी को अपने कंधे के बिलकुल नीचे ले जायें और हथेलियों को भूमि की तरफ़ रखें
    5. धीरे धीरे सिर को ऊपर की तरफ़ उठायें, पीठ पर अधिक बल न लगायें
    6. इस स्थिति में थोड़ी देर रुककर गहरी लम्बी साँस लें, फिर सामान्य अवस्था में आ जाएँ
    7. यही प्रक्रिया पुन: दोहरायें

    इन आसनों से अवश्य ही आपको कमर दर्द से छुटकारा मिलेगा।