खेल खेलने के स्वास्थ्य लाभ

आज के समय में बच्चों पर लगातार पढ़ाई का बोझ इस कदर बढ़ता जा रहा है कि उनका बचपन जैसे उनसे कोसों दूर होता जा रहा है। माता पिता के द्वारा बच्चों पर अपना बेस्ट देने का प्रेशर हमेशा रहता है। जिससे बच्चे सिर्फ किताबों में ही अपनी दुनिया बना लेते है और बच्चे खेल से कोसो दूर हो जाते है। जबकि खेल बच्चों के सम्पूर्ण विकास के लिए बहुत ज़रूरी है। इससे बालकों का शारीरिक और मानसिक विकास होता है। इसलिए आज हम आपको खेल खेलने के फायदे के बारे में बताने जा रहे है ताकि कोई माता पिता अपने बच्चों को खेल खेलने से रोकने के बजाय बच्चों के साथ खेलें। इस तरह से बच्चों के साथ खेलने से वे स्वस्थ भी रहेंगें और बच्चों के साथ कुछ समय भी व्यतीत कर पाएंगे।

खेल खेलने के फायदे

खेल खेलने के फायदे

1. जब बच्चा समूह में खेलने का प्रयास करता है तो उस खेल खेल में उसे समूह में खुद को अभिव्यक्तत करने का एक मौका मिलता है।

2. खेल खेल में उसके शरीर के समस्त अंगों का विकास अच्छे से होता है जिससे वो हमेशा फिट रहता है और उसका शरीर हष्ट पुष्ट और बलवान रहता है।

3. खेल एक व्यायाम की तरह है जिससे न केवल उसका शारीरिक विकास होता है बल्कि मानसिक तनाव भी दूर रहता है।

4. समूह में खेल खेलने से बालक में प्रतियोगिता की भावना का विकास होता है और जिससे बालक अपना बेस्ट देने की कोशिश करता है।

5. जब बच्चा समूह में कोई खेल खेलता है तो उस खेल में उसका सामाजिक विकास भी होता है। वो खेल खेल में अपने दोस्तों से समाज के रीति रिवाजों और संस्कारों को भी सीखता है।

6. खेल खेल में जब हारे हुए खेल को जीतने का जुनून चढ़ता है और तब किस तरह धैर्य और सहनशीलता से काम लेकर जिस रणनीति से खेल को जीतने का प्रयास करता है। यह प्रयास ही बालक में धैर्य और सहनशीलता जैसे गुणों का विकास करता है।

खेल बालकों के लिए एक व्यायाम की तरह होता है। लेकिन खेल खेल में ही बालक का केवल शारीरिक विकास ही नहीं बल्कि सामाजिक और मानसिक विकास भी अच्छे से हो पाता है। इसलिए नित्य खुद भी खेले और बच्चों को भी खेलने दें।

Previous articleसाबूदाना फिरनी
Next articleचिली मशरूम