जब पाचन तंत्र सही न हो तो भोजन करने बाद सुस्ती, पेट फूलना और थकान जैसी समस्याएँ हो सकती हैं। हममें से कइयों के लिए एक सामान्य बात है, लेकिन इसमें ऐसा भी कुछ नहीं है कि आप इससे घबरा जाएँ। अगर आपको स्वस्थ रहने की इच्छा है तो अपना डायजेशन ठीक करें। इससे आपकी आधी बीमारियाँ तो ख़ुद ही भाग जाएंगी। इस काम की शुरुआत करने के लिए आपको ताज़ा खाना खाना होगा और गुनगुना पानी पीना होगा। गरम खाने का स्वाद भी अधिक होता है और इससे पाचन तंत्र भी स्वस्थ रहता है।

स्वस्थ पाचन तंत्र

पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने के लिए आवश्यक है कि खान-पान सही हो। अदरक और पालक को खाने में शामिल किया जाए, इससे पाचन क्रिया सही रहती है। -डॉ अभिजीत चंद्रा, हेड, गैस्ट्रोलॉजी डिपार्टमेंट, केजीएमयू

पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने के उपाय

1. अदरक का सेवन करें

जैसा कि आपको पता है कि सर्दी जुकाम से बचने के लिए अदरक का सेवन किया जाता है। अदरक पेट की प्रॉब्लम जैसे कब्ज़ के लिए भी लाभदायक होता है। अदरक को पीसकर उस पर काला नमक छिड़ककर खाने से पाचन तंत्र सम्बंधित विकार समाप्त हो जाते हैं।

2. तनाव मुक्त रहें

तनाव का हमारी पाचन प्रक्रिया पर बुरा असर पड़ता है। जिससे लगातार पाचन समबंधित समस्याएँ बनी रह सकती हैं। इसलिए आपको योग, प्राणायाम, अनुलोम विलोम को साधन बनाना चाहिए।

3. वज्रासन का लाभ लें

भोजन करने के बाद वज्रासन की मुद्रा में बैठकर आंखें बंद करके ध्यान लगाना चाहिए। इस मुद्रा में घुटनों के बल बैठा जाता है। इससे पाचन तंंत्र का फ़ंक्शन ठीक रहता है, शरीर को ऊर्जा मिलती है और माइंड रिफ़्रेश हो जाता है।

4. आयुर्वेदिक मसाले खायें

पाचन सम्बंधित विकारों को दूर रखने के लिए हींग, मेथी, अजवाइन और जीरा प्रयोग किया जाता है। इन्हीं कारणों से भारतीय व्यंजनों में इन्हें मसालों में प्रयोग किया जाता रहा है। जिससे पाचन तंत्र सुचारू रूप से काम करता है और पेट की सूजन भी कम होती है। साथ ही जब आप खाने के लिए बैठें तो खाना खाकर ही उठें। खाना खाते समय टीवी न देखें बल्कि मन को शांत रखकर भोजन करें। इससे भोजन का अधिक लाभकारी बन जायेगा।

5. खाने का टाइम टेबल बनाएँ

व्यस्त लाइफस्टाइल की वजह से हम अलग अलग समय पर भोजन करते हैं। ऐसा करने से भी पाचन सम्बंधित समस्याएँ होती हैं। इसलिए खाने का टाइल टेबल बनायें और जब पहले खाया हुआ खाना पच जाये तभी दुबारा खाने की सोचें।