गुड़ का मुख्य रूप से उपयोग दक्षिण एशिया में किया जाता है। भारत के ग्रामीण इलाक़ों मे गुड़ का सेवन चीनी के स्थान पर किया जाता है। गुड़ आयरन का अच्छा स्रोत है। चीनी की तुलना में, गुड़ अधिक स्वास्थ्यवर्धक है। इसके नियमित सेवन से हम इन एनीमिया, दमा, पीलिया, कान दर्द, शारीरिक थकान व जोड़ो के दर्द नामक रोगों से मुक्त रहते हैं। गुड़ के लाभ एक नहीं अनेक हैं।

गुड़ गन्ने से तैयार एक शुद्ध खाद्य पदार्थ हैं। जिसकी जगह आज हम सभी चीनी का प्रयोग करने लगे हैं। गुड़ गुणों की खान है और आज हम आपको गुड़ के 12 चमत्कारी लाभों के बारे में बताने जा रहे हैं।

गुड़ के लाभ

गुड़ के लाभ

गुड़ के लाभ जानने के लिए आगे पढ़िए…

  1. भोजन करने के बाद रोज़ गुड़ का सेवन करना चाहिए। खाना खाने के बाद इसके सेवन से आप हेल्दी रहेंगे तथा पाचन क्रिया भी ठीक रहेगी।
  2. गुड़ के नियमित सेवन से पेट की गैस की दिक्कत भी नहीं रहती है।
  3. गुड़ के नियमित सेवन से जोड़ों के दर्द यानि ज्वाइंट पेन में भी राहत मिलती हैं।
  4. गुड़ सोडियम और पोटेशियम का एक अच्छा स्रोत है। इसमें रक्तचाप को नियंत्रित करने की शक्ति विद्यमान है।
  5. गुड़ आयरन का स्रोत होने के कारण आप शरीर में हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाने में मदद करता है। एनीमिया के मरीज़ों को इसका सेवन ज़रूर करना चाहिए। महिलाओं में अक्सर आयरन की कमी हो जाती है, जिसे पूरा करने के लिए उन्हें गुड़ खाना चाहिए।
  6. गुड़ रक्त से ख़राब टॉक्सिन को दूर करता है, जिससे आपकी त्वचा में चमक आती है और कील मुंहासों से भी आपको राहत मिलती है।
  7. गुड़ में एंटी एलर्जिक तत्व विद्यमान हैं तथा इसमें थोड़ी मात्रा में कैल्शियम, फ़ास्फ़ोरस और जस्ता भी विद्यमान है। गुड़ का हलवा खाने से स्मरण शक्ति भी तेज़ होती हैं। अतः इसका नियमित सेवन करके स्वस्थ रहें।
  8. 5 ग्राम सोंठ और 10 ग्राम गुड़ के साथ नियमित सेवन करें, तो इससे पीलिया के रोग में भी लाभ मिलता है।
  9. 5 ग्राम गुड़ और 5 ग्राम सरसों के तेल को मिलाकर सेवन करें, तो श्वास रोग से मुक्ति मिलती है।
  10. गुड़ शरीर के सभी विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है। जिससे हम लोग रोग मुक्त रहते हैं। सर्दियों में, यह शरीर के तापमान को भी नियंत्रित करता है।
  11. गुड़ के नियमित सेवन से खांसी और जुकाम में राहत मिलती हैं, क्योंकि यह गले और फेफड़े के इंफ़ेक्शन से राहत दिलाता है। इसलिए इसका नियमित सेवन ज़रूर करें। इसके साथ साथ गुड़ और काले तिल के बने लड्डुओं का भी सेवन ज़रूर करें ।
  12. गुड़ मैग्नीशियम का एक अच्छा स्त्रोत है। जो मनुष्य शारीरिक श्रम वाला ज़्यादा काम करते हैं, उन्हें थकान से बचने के लिए गुड़ का सेवन करना चाहिए। यह शरीर को ऊर्जा प्रदान कर थकान में राहत देता है और कई बिमारियों से दूर भी रखता है।
  13. यदि लड़कियों को मासिक धर्म की अनियमितता की समस्या है तो उन्हें भी नियमित गुड़ का सेवन करना चाहिए इसके सेवन से उन्हें इस समस्या से काफ़ी राहत मिलेगी।

अगर आप गुड़ का सेवन नहीं करते हैं तो आज से ही अपने भोजन में इसे नियमित शामिल करें। गुड़ के लाभ ही लाभ है जिससे आप कई रोगों से मुक्त रह सकते हैं।

loading...