काजू, अखरोट, मुनक्का और अन्य मेवे की तरह किशमिश भी एक सूखा मेवा है। जिसे अंगूर को सुखाकर बनाया जाता है। किशमिश / Raisins स्वाद में मीठी होती है। जिसका उपयोग हम लोग मीठे पकवान जैसे खीर, सेवई, मीठे दही बड़े और हलवा आदि को बनाने में करते हैं। किशमिश कैलोरी, मैग्नीशियम, आयरन, फाइबर, कैल्शियम, ग्लूकोज, विटामिन, एंटीऑक्सीडेंट गुणों से परिपूर्ण होने में कारण इसका उपयोग औषधि के रूप में भी करते हैं। सूखे मेवे के रूप में किशमिश के सेवन से हड्डियां मजबूत रहती है, पाचन क्रिया ठीक रहती है, ब्लडप्रेशर कंट्रोल में रहता है और डायबिटीज रोगी के स्वास्थ्य का भी ख़ास ख़याल रखता है। इसके अलावा आप हृदय रोग, ट्यूमर, कैंसर जैसे रोगों से भी बचे रहते हैं।

किशमिश खाने के लाभ
Raisins kishmish

किशमिश के सेवन का लाभ

1. रक्त की कमी को दूर करें

अगर आपके शरीर में रक्त की कमी है तो खून की कमी को पूरा करने के लिए एक महीने तक एक गिलास गाजर या अनार के जूस के साथ 2 चम्मच किशमिश के सेवन करने से शरीर में रक्त की कमी दूर हो जाती है। क्योंकि किशमिश में मौजूद पोषक तत्व शरीर में रक्त बढ़ाने में सहायक है।

2. हड्डियों को मजबूत बनाए

हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत बनाने के लिए दूध या दही में किशमिश डालकर सेवन करने से हड्डियां मजबूत होती हैं।

3. पाचन क्रिया को ठीक रखें

अगर आपको पाचन क्रिया से सम्बंधित कोई समस्या जैसे गैस, एसिडिटी, कब्ज हो तो नियमित किशमिश को गर्म दूध में डालकर सेवन करें। इससे गैस, एसिडिटी और कब्ज़ जैसी समस्याओं से निजात मिलता है।

4. ब्लडप्रेशर कंट्रोल करें

किशमिश में मौजूद तत्व बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल को नियत्रंण करने में सक्षम है। बढ़े हुए ब्लडप्रेशर को कंट्रोल करने के लिए 1 गिलास ठंडे पानी में 10 किशमिश के दानों को 10 मिनट तक भिगों दें। फिर इसमें 1 नींबू निचोड़कर इस घोल को पीले, इससे तुरन्त बढ़ा हुआ ब्लडप्रेशर कंट्रोल हो जाता है।

Measuring blood pressure
Measuring blood pressure

5. दांतों को मजबूत बनायें

किशमिश के सेवन से इसमें मौजूद बोरोन, कैल्शियम नामक तत्व दांतो में कैविटी, सूजन, दर्द को दूर कर दांतों को निरोग और मजबूत बनाते हैं।

6. यौन दुर्बलता

किशमिश में मौजूद अमीनो एसिड नामक तत्व यौन दुर्बलता को दूर कर काम प्रवृत्ति को बढ़ाने में सहायक है। इसीलिए रोज़ाना 1 गिलास दूध में 2 चम्मच किशमिश और 2 धागे केसर डालकर नवविवाहित दम्पति को अवश्य पीना चाहिए। इसके अलावा अन्य लोग भी इस समस्या से बचने के लिए रोजाना किशमिश ज़रूर खाए और अपनी शादीशुदा ज़िंदगी को खुशहाल बनाए।

7. आंखों की ख़ास देखभाल करें

किशमिश में एंटी ऑक्सीडेंट, विटामिन ए, बीटा कैरोटीन और ए- कैरोटीनॉइड नामक तत्व पाए जाते है जो आँखों की ख़ास देखभाल के लिए बहुत ज़रूरी होते हैं। इसीलिए 1 गिलास दूध में 2 चम्मच किशमिश डालकर ज़रूर सेवन करें।

8. वज़न बढ़ाने में सहायक

अगर आप बहुत दुबले पतले है और अपने वज़न को बढ़ाना चाहते है तो किशमिश का सेवन ज़रूर करें क्योंकि इसमें ग्लूकोज और फ्रुक्टोज नामक तत्व पाए जाते हैं जो वजन बढ़ाने और शरीर को मजबूत बनाने में सहायक है।

किशमिश को भिगोकर किशमिश का पानी पिएं और किशमिश को ड्राईफ्रूट के रूप में खाएं। ताकि आप हमेशा सेहतमंद बने रहें और ताउम्र खुशहाल जीवन जी सकें।