संतरा खाने के फ़ायदे

भारत में संतरा (अंग्रेजी : Orange) सबसे ज़्यादा नागपुर में पैदा होता है, इसलिए नागपुर को ऑरेंज सिटी कहकर पुकारते हैं। संतरा सभी मौसम में पाया जाता है। संतरे का स्वाद थोड़ा खट्टा थोड़ा मीठा है लेकिन यह कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है। संतरे में विटामिन सी, विटामिन बी 5, विटामिन बी 6, विटामिन ए, मैग्नीशियम, आयरन, एंटीऑक्सीडेंट्स, फोलेट, पोटैशियम, पैक्टिन, फ़ाइबर व खनिज तत्व प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। इसीलिए संतरे को ज़रूर खाए ताकि इसके सभी पोषक तत्व आपको प्राप्त हो सकें और आप हमेशा स्वास्थ्य बने रहे।

संतरा ऑरेंज Orange

संतरा खाने के अदभुत लाभ

1. संतरे के पीस को चबा चबाकर खाने से दांतों व मसूड़ों की परेशानियों से छुटकारा मिलता है।

2. संतरे का सेवन करने से पेशाब की जलन की समस्या से छुटकारा मिलता है।

3. संतरे में पोटैशियम और मैग्नीशियम अधिक मात्रा पाई जाती है जिससे ब्लडप्रेशर कंट्रोल रहता है। इसीलिए हाई ब्लडप्रेशर से परेशान व्यक्ति को संतरे का सेवन ज़रूर करना चाहिए।

4. संतरा में फ़ाइबर होता है जो हमारे शरीर के कोलेस्ट्रोल को कंट्रोल करने में सहायक है।

5. संतरे में एंटीऑक्सीडेंट नामक तत्व पाए जाते हैं जो आपको सर्दी खांसी जैसे संक्रमण से बचा के रखते हैं।

6. संतरे में विटामिन ए पाया जाता है। इसीलिए इसका सेवन आँखों के लिए बहुत लाभकारी है।

7. एक शोध के अनुसार संतरा खाने या इसका जूस पीने से किडनी में होने वाली बीमारी की संभावना बहुत कम हो जाती है।

8. संतरा विटामिन व खनिज तत्व से भरपूर होता है। जिससे संतरे के सेवन से आप माईग्रेन व दिमागी तनाव से भी बचे रहते हैं।

गर्भवती महिला के लिए संतरा खाने के फ़ायदे

प्रेग्नेंसी के समय में भी संतरे का सेवन करना फ़ायदेमंद है। संतरे में विटामिन सी की भरपूर मात्रा पाई जाती है। जिससे इसका सेवन करना गर्भवती महिलाओं के लिए काफ़ी फ़ायदेमंद होता है। विटामिन सी के अलावा संतरे में और भी कई पोषक तत्व पाए जाते हैं जो कि गर्भवती महिलाओ को कई तरह की बीमारियों से भी बचाते हैं।

कब्ज़ की समस्या से छुटकारा

गर्भवास्था के समय अगर गर्भवती महिला को कब्ज़ की समस्या हो जाए तो इस परेशानी से बचने के लिए थोड़ा थोड़ा संतरा खाएँ। क्योंकि संतरे में मौजूद फ़ाइबर आपको कब्ज़ व पेट से जुड़ी अन्य समस्याओं से बचाए रखते हैं।

तनाव से दूर रखे

गर्भावस्था में महिला को हमेशा ख़ुश रहना चाहिए। लेकिन कभी कभी गर्भावस्था में महिला ज़्यादा तनाव ले लेती हैं और इसका असर उनके होने वाले बच्चे पर भी पड़ता है। ऐसे में तनाव से बचने के लिए आप नियमित थोड़ा थोड़ा संतरे का सेवन करें। क्योंकि संतरे में अधिक मात्रा में पोटैशियम पाया जाता है जो कि गर्भवती महिला के ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है और उसे तनाव मुक्त रहने में मदद करता है।

पानी की कमी को पूरा करे

प्रग्नेंसी के समय गर्भवती महिला को पानी की कमी से बचाने के लिए नारियल पानी, सूप और संतरे का जूस ज़रूर पिलाएं। ताकि सन्तरे के सभी पोषक तत्व गर्भवती महिला को मिल सके और वो स्वस्थ रहें।

Previous articleभृंगराज के औषधीय उपयोग
Next articleसंतरे के छिलके के औषधीय गुण