अक्सर आप लोग एनर्जी और ताक़त के लिए फल ख़रीदकर लाते हैं, इन्हें छीलते हैं और फिर फल को खा लेते हैं। फिर इनके छिलकों को बेकार समझकर कूड़ेदान में फेंक देते हैं। जबकि कई फलों जैसे संतरे के छिलके में असिनेक औषधीय गुण छिपे रहते हैं जिनसे आप अंजान होते हैं। इसी कारण इन छिलकों का उपयोग नहीं कर पाते हैं। ऐसा ही एक फल संतरा (अंग्रेजी : Orange) भी है जिसके फल व जूस के साथ साथ छिलके में भी कई औषधीय गुण छिपे हैं जो न केवल आपकी सेहत का बल्कि सौन्दर्य को निखारने में भी मदद करते हैं।

संतरे का छिलका

संतरे के छिलके के गुण और प्रयोग

संतरे के छिलके को उपयोग में लाने के लिए इसे सबसे पहले कुछ दिनों तक धूप में सुखा लें। फिर इसे पीसकर इसका पाउडर बनाकर रख लें। अब आप इस पाउडर को उपयोग में ला सकते हैं…

1. मुहांसे

मुहांसों से छुटकारा पाने के लिए 2 चम्मच संतरे के छिलके के पाउडर में थोड़ा कच्चा दूध मिलाकर मुहांसों पर लगाने से मुंहासे ठीक हो जाते हैं और त्वचा बेदाग़ नज़र आती है।

2. कब्ज़

संतरे के छिलके में फ़ाइबर व पैक्टिन नामक तत्व पाए जाते हैं। जो कब्ज़ से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं। इसीलिए कब्ज़ होने पर 1 चम्मच संतरा के छिलके के पाउडर को 1 गिलास दूध के साथ सेवन करें। इससे तुरन्त आराम मिलता है।

3. वज़न घटाने में मदद करें

संतरे के छिलके का पाउडर वज़न नियंत्रण करने में सहायक है। बस 1 चम्मच संतरे के छिलके के पाउडर को प्रतिदिन सुबह ठंडे दूध के साथ सेवन करने से कुछ ही दिनों में असर नज़र आने लगता है।

Orange aroma

4. कैंसर

कैंसर के ख़तरे को कम करने में संतरे का छिलका रामबाण दवा की तरह काम करता है। रोज़ सुबह ख़ाली पेट 1 चम्मच संतरे के छिलके का पाउडर 1 गिलास कच्चे दूध में डालकर सेवन करने से आप कैंसर जैसे रोग से बच सकते हैं।

5. हार्ट से जुड़ी समस्याओं से बचाए

संतरे के छिलके के पाउडर को दूध के साथ पीने से शरीर में रक्त संचार अच्छे से होता है, जिससे आप हार्ट से जुड़ी कई समस्याओं से बचे रहते हैं।

6. बेदाग़ त्वचा पाने के लिए

यदि आप बेदाग़ त्वचा पाना चाहते हैं तो संतरे के छिलके के पाउडर में थोड़ा दूध या मलाई मिलाकर चेहरे व हाथ पर लगाएँ और आधे घंटे के लिए छोड़ दें। फिर चेहरे को ठंडे पानी से धो लें। इस उपाय से आपका चेहरा बेदाग नज़र आएगा।

तो संतरे के छिलकों के इतने सारे फ़ायदों को जानने के बाद अब आप इन छिलकों को फेंकने के बजाय इनको उपयोग में लाएँ और सेहत के साथ साथ खिला खिला रूप भी पाएँ।