विटामिन सी

विटामिन सी के लाभ

कई सारे ज़रूरी विटामिनों की तरह विटामिन सी भी हमारे शरीर के लिए एक ज़रूरी है। विटामिन सी की कमी के कारण कई बीमारियां जैसे मोतियाबिंद, चर्म रोग, गर्भपात, रक्ताल्पता, भूख न लगना, स्कर्वी रोग, कैंसर जैसे रोग हो सकते हैं। इसलिए विटामिन C से युक्त खाद्य पदार्थो का सेवन ज़रूर करें।

विटामिन सी का वैज्ञानिक नाम एस्कॉर्बिक एसिड है। यह हमारे शरीर की कार्यप्रणाली को सुचारू रूप से चलाने के लिए अति आवश्यक पोषक तत्वों में से एक है। प्रतिदिन एक व्यक्ति को 80 से 100 मिली ग्रा. तक विटामिन C का सेवन करना चाहिए ताकि वह कई रोगों से बचा रहे।

विटामिन सी

विटामिन सी से युक्त खाद्य पदार्थों को पकाने या उबालने पर इनकी पौष्टिकता कम हो जाती है। इसलिए विटामिन सी को प्राप्त करने के लिए कच्चे फल व सब्जियों का सेवन करना चाहिए।

विटामिन सी के स्रोत

विटामिन C को हम लोग फल, सब्जियां और दालों के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं। फल जैसे आंवला, नारंगी, नींबू, संतरा, बेर, अंगूर, टमाटर, अमरूद, केला, अनानास, स्ट्राबेरी, सेब, खट्टे रसीले फल, आदि एवं मूली के पत्ते, कटहल, शलजम, पुदीना, मुनक्का, दूध, चुकंदर, बंदगोभी, हरा धनिया, दालें और पालक आदि भी विटामिन सी के अच्छे स्रोत हैं।

विटामिन सी के फायदे

1. फ्री रैडिकल्स में कमी

हमारी त्वचा पर फ्री रैडिकल्‍स के कारण झुर्रियां पड़ने लगती हैं और हमारी त्वचा बेकार होने लगती है। ऐसे में विटामिन सी से युक्त खाद्य पदार्थो का ख़ूब सेवन करें। क्योंकि वाइटमिन सी में मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट शरीर में फ्री रैडिकल्‍स से लड़ते है और आपकी त्वचा की रक्षा करते हैं।

2. रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि

वाइटमिन सी की कमी के कारण थकान, जोड़ों में दर्द, कमजोरी सताने लगती है और हमारे शरीर की रोगों से लड़ने की शक्ति भी ख़तम होने लगती है, ऐसे में वाइटमिन C से युक्त खट्टे फलों को कच्चा खाना शुरू कर दें ताकि आपकी रोग प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत बन सकें और आप स्वास्थ्य रह सकें।

3. स्वस्थ मसूढ़े

आपने अक्सर देखा होगा कि कुछ लोगों के मसूढ़ों से खून बहता है या दांत दर्द होने लगता है। ये सब विटामिन सी की कमी के कारण होता है। इसलिए ऐसे लोग अपने आहार में वाइटमिन C को ज़रूर शामिल करें।

4. पूरी नींद लेने में मददगार

विटामिन सी मस्तिष्क में सेराटोनिन नामक रसायन को बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है जो कि हमारी नींद के लिए बहुत ज़रूरी होता है। इसलिए विटामिन C से युक्त आहार को अपने भोजन में ज़रूर शामिल करें।

5. शारीरिक विकास

विटामिन C कमी के कारण शिशुओं की मांसपेशियां और हड्डियों का विकास ठीक तरह से नहीं हो पाता, इसलिए खट्टे फलों का ख़ूब सेवन करें।

ज़रूरी टिप्स

जिन व्यक्तियों को पथरी की शिकायत है, उन्हें इसका सेवन करने से पूर्व डॉक्टर की सलाह अवश्य लेनी चाहिए।

Keywords – Vitamin C, Ascorbic Acid, Vitamic C Source, Vitamin C Health Benefits

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top