सर्दियों के मौसम में अमरूद बाज़ार में ख़ूब मिलता है। आप सभी ने अमरूद का सेवन नमक और चाट मसाला डालकर किया होगा। अमरूद से बना जैम और जैली भी एंजॉय किया होगा। लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये अमरूद आपकी हेल्थ और ब्यूटी के लिए भी बहुत फायदेमंद फल है। अमरूद में विटामिन सी, लायकोपीन और एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर कई दूसरे विटामिन और मिनरल्स भी होते हैं जो आपकी बॉडी को न्यूट्रीएंट्स एब्जॉर्ब करने में मदद करते हैं। आइए अमरूद के गुण और अमरूद के फायदे नुकसान जानते हैं।

अमरूद के फायदे

आज आप अमरूद के औषधीय गुण जानकर इसे आहार में शामिल करें और प्रकृति के इस वरदानी फल का लाभ उठाएं।

अमरूद के फायदे नुकसान और गुण

1. दिमाग़ बढ़ाये

अमरूद में विटामिन B3 और B6 होता है, जिसके कारण ब्रेन में ब्लड सर्कुलेशन इम्प्रूव होता है। मेमोरी पॉवर बढ़ती है और नर्व्स रिलैक्स होती हैं।

2. इम्युनिटी बूस्टर

अमरूद विटामिन C का सबसे अच्छा सोर्स है। इसमें संतरे से चार गुना ज्यादा विटामिन C होता है, जो आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्युनिटी पॉवर बढ़ाता है। साथ ही कॉमन इन्फैक्शन्स और बीमारियों से बचाता है।

3. चयापचय बढ़ाये

अमरूद का सेवन विटामिन और फाइबर इनटेक से समझौता किए बगैर चयापचय यानि मेटाबॉलिज्म बढ़ाता है और वजन घटाने में मदद करता है। इसको खाकर पेट भर जाता है। कच्चे अमरूद में केला, एप्पल, ऑरेंज और ग्रेप जैसे दूसरे फलों के मुकाबले काफी कम शुगर होती है।

4. डायबिटीज से बचाव

इसमें डायबिटीज से बचाने के लिए रिच फाइबर कंटेंट और लो ग्लायसेमिक इंडेक्स है। लो ग्लायसेमिक इंडेक्स अचानक शुगर लेवल बढ़ने से रोकता है, वहीं हाई फाइबर के कारण शुगर अच्छे से रेगुलेट होती रहती है।

5. वायरल को दूर करता है

दूसरे फलों की तुलना में अमरूद में काफी मात्रा में विटामिन C और आयरन होता है। ये दोनों वायरल से बचाते हैं। कच्चे अमरूद का रस फेफड़ों में मौजूद कफ को बाहर निकालता है।

6. आँखों की रोशनी बढ़ाता है

अमरूद में विटामिन A होता है जिससे ये आँखों की रोशनी के बढ़ती है। अमरूद के औषधीय गुण न केवल आई साइट बेहतर बनाते हैं, बल्कि ये मोतियाबिंद और मस्कुलर डिकंजेशन जैसी बीमारियों से भी बचाता है।

7. कब्ज से राहत

अमरूद के गुण कब्ज़ से राहत दिलाते हैं। इसमें फाइबर की मात्रा अधिक होती है जो मल को नरम करता है, साथ ही अमरूद के बीज आंतों की सफाई करते हैं।

8. थायराइड में असरदार

अमरूद में मौजूद कॉपर थाइराइड बनाने और उसे शरीर द्वारा सोखने की प्रक्रिया को नियंत्रित करता है।

अमरूद का रस

9. डायरिया और डिसेंट्री का इलाज

विटामिन सी, कैरोटेनॉयड और पोटैशियम से युक्त अमरूद पाचन तंत्र को स्वस्थ रखता है। इसमें एंटी बैक्टीरियल और क्षारीय गुण डायरिया और डिसेंट्री को रोकते हैं।

  • 2 गिलास पानी में 1 मुट्ठी चावल का आटा और 30 ग्राम अमरूद की पत्तियां उबालकर काढ़ा बनाएं। इसे दिन में 2 बार पिएं।
  •  अमरूद की पत्तियां और जड़ 20 मिनट के लिए पानी में उबालकर पिएं, इससे डिसेंट्री का उपचार होता है।

10. स्कर्वी का इलाज

प्रचुर मात्रा में विटामिन सी होने के कारण अमरूद के गुण स्कर्वी के इलाज में लाभदायक होता है।

11. कैंसर की रोकथाम

अमरूद की पत्तियों का तेल कैंसर कोशिकाओं की बढ़त को रोकता है। एंटी ऑक्सीडेंट और ल्य्कोपेने से भरपूर अमरूद प्रोस्टेट और स्तन कैंसर को कम करता है। इसके साथ ही विटामिन सी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर कैंसर से लड़ने की क्षमता देता है।

अमरूद के नुकसान

अमरूद के फायदे होने के साथ-साथ कुछ नुकसान भी हैं, इसलिए थोड़ी सावधानी रखनी भी जरूरी है।

  • गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाएं अमरूद कम खाएं। इसमें फाइबर अधिक होता है, जिस वजह से डायरिया हो सकता है।
  • ज्यादा अमरूद खाने से पेट की समस्याएं जैसे सूजन, गैस और मल त्याग करने में दिक्कत हो सकती है। इसलिए अधिक अमरूद खा लें तो पानी भी खूब पिएं।
  • लो पोटेशियम से जूझ रहे व्यक्ति डाक्टरी सलाह से अमरूद का सेवन करें।

अमरूद के गुण सर्दी से बचाएँ

ये एक मिथक है कि अमरूद खाने से सर्दी और खांसी आती है। जबकि विटामिन सी और अन्य खनिज तत्वों से युक्त अमरूद खाने से खांसी और सर्दी जुकाम नहीं होता बल्कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इसलिए अमरूद के फायदे अधिक हैं और नुकसान कम होते हैं।

loading...