नीम एक गुणकारी व प्राकृतिक औषधि है| जिसकी पत्ती, तना, छाल व बीज का उपयोग कई बीमारियों से बचने के लिए किया जाता है। नीम में एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल गुण मौजूद हैं जो हमें संक्रमण से बचाकर हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को भी काफ़ी मज़बूत बनाते हैं। इसके अलावा नीम के बीजों से नीम का तेल निकाला जाता है। जो हल्के भूरे रंग का और सल्फर की तरह गंध वाला होता है। यह बहुत लाभदायक है इसीलिए आज नीम व नीम के तेल का उपयोग साबुन और शैम्पू बनाने में भी किया जाता हैं। इस लेख में आप नीम के तेल के फ़ायदे और नीम का तेल बनाने की विधि बताने जा रहे हैं…

नीम के तेल के फायदे नीम का तेल बनाने की विधि

 

नीम के तेल के फ़ायदे

1. रूखे बालों को मुलायम बनाए

अगर आपके बाल रूखे सूखे और बेजान हैं तो एक बार अपने बालों की नीम के तेल से मसाज ज़रूर करें। इससे आपके रूखे और क्षतिग्रस्त बालों की मरम्मत हो जाएगी। आपके बाल मुलायम और चमकदार बन जाएंगे।

2. रूसी दूर भगाए

बालों में रूसी हो जाने पर नीम का तेल बालों में 2-3 सप्ताह तक लगाएँ। इसके उपयोग से बालों की रूसी दूर हो जाएगी। साथ ही बालों की जड़ें मजबूत होती है।

3. बालों की देखभाल के लिए

बालों की देखभाल के लिए नीम का तेल बेस्ट है। यह बालों के लिए अच्छे कंडीशनर के रूप में काम करता है। यदि आपके बाल घुंघराले है तो स्नान करने से पहले अपने बालों में नीम का तेल लगाएँ। इससे आपके बाल सीधे और चमकदार नज़र आयेंगें।

4. जुओं को दूर भगाए

सिर को जुओं के प्रभाव से मुक्त रखने के लिए नीम के तेल का उपयोग एक अच्छा उपाय है। नीम के तेल को बालों की जड़ों में लगाकर जुओं को दूर भगाएँ।

5. मुहांसे गायब करे

अक्सर लड़कियां अपने मुहांसों को लेकर बहुत परेशान रहती हैं। इन मुहांसों को गायब करने के लिए नीम के तेल का उपयोग एक अच्छा उपाय है। बस नीम के तेल को उंगली से मुहांसों पर कुछ दिन तक लगाकर मुहांसों को दूर भगाएँ।

neem oil benefits hindi

6. फंगल इंफेक्शन से मिटाए

फंगल इंफेक्शन बैक्टीरिया या जीवाणुओं के कारण होता है। अतः अपनी त्वचा को फंगल इंफेक्शन से बचाने के लिए नीम के तेल का उपयोग करें। इसके लिए त्वचा के प्रभावित भाग पर नीम का तेल लगाकर फंगल इंफेक्शन से बचाएँ।

7. त्वचा संबंधित रोगों का इलाज

नीम के तेल का उपयोग एक्जिमा, दाद, सोरायसिस, फोड़े फुंसी, दाने आदि में लगाने पर इन सभी समस्याओं से छुटकारा मिल जाता है।

8. कान का दर्द खत्म करे

कान दर्द होने पर या कान के बहने पर कुछ बूंदें नीम का तेल कुछ दिनों तक कान में डालने से फायदा मिलता है।

9. मच्छरों से बचाएँ

मच्छरों के काटने से बचने के लिए नीम के तेल में कपूर को मिलाकर शरीर पर लगाकर सो जाएँ। इस उपयोग से आप मच्छरों के काटने से बचे रहते हैं।

10. मलेरिया बुखार

मलेरिया बुखार हो जाने पर नीम के तेल में नारियल या सरसो का तेल मिलाकर शरीर पर मालिश करें। इससे मलेरिया का ज्वर उतर जाता है।

नीम की नीम्बौरियाँ

नीम का तेल बनाने की विधि

आइए हम आपको बताते हैं कि घर पर नीम का तेल कैसे बनायें…

  • नीम का तेल बनाने के लिए नीम के पेड़ से पके हुए फल तोड़ें।
  • फलों को धूप में 4 से 5 दिन तक सुखा लें।
  • अच्छे से सूखे हुए नीम के फलों से बीज की गुठलियाँ निकालें।
  • गुठलियों को मोटा मोटा तोड़कर ग्राइंडर में पीस लें।
  • ग्राइंडर में नीम की गुठलियों का पेस्ट बन जाएगा।
  • इस पेस्ट अच्छे से हाथों से निचोड़कर नीम का तेल निकालें।

नीम का तेल उपयोग करने से पहले गरम करके ठंडा कर लें। आधा किलो गुठलियों से लगभग 50 ग्राम तेल प्राप्त हो जाएगा। इसके अलावा आप पतजंलि नीम का तेल भी खरीदकर प्रयोग कर सकते हैं।

Keywords- Neem ke tel ke fayde, neem ka tel nikalne ki vidhi, neem ke tel ka upyog, neem ka tel nikalna, neem oil benefits in hindi